शैमफॉर्ड स्कूल बराड़ा में ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ व ‘फिट इंडिया मूवमेंट’ थीम के संदेश द्वारा मनाया गया वार्षिकोत्सव
December 17th, 2019 | Post by :- | 149 Views

अंबाला , बराड़ा ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी)
शैमफाॅर्ड स्कूल बराड़ा के परिसर में भव्य वार्षिकोत्सव संपन्न किया गया । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की भूमिका में लेफ्टिनेंट जनरल के.जे सिंह( परम विशिष्ट सेवा मेडल व अति विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित) व विशेष अतिथि की भूमिका में डॉ. डी.आर अरोड़ा व डॉ. विमला अरोड़ा( चेयरमैन व फाउंडर डायरेक्टर अॉफ शैमरॉक स्कूल ) ने शिरकत की। स्कूल के चेयरमैन  इंद्रजीत सिंह, प्रधानाचार्या  रूबी शर्मा व उप-प्रधानाचार्या  सुमन शर्मा ने अतिथियों का स्वागत किया तथा मुख्य अतिथियों को सरोपा देकर सम्मानित किया और छात्रों ने पथ -संचालन करते हुए अतिथियों का स्वागत किया । कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन के द्वारा विधिवत रूप से किया गया। मधुर श्लोकों और मंत्रों के उच्चारण से सारा वातावरण पवित्र हो गया। तत्पश्चात छात्रों द्वारा गणपति वंदना की मंत्रमुग्ध प्रस्तुति दी गई ।वंदना में बच्चों का उत्साह देखते ही बन रहा था‌। बच्चों ने’ एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ विषय के अंतर्गत उत्तर भारत के डोगरी, बीहू, गरबा, उत्तराखंड , तेलंगाना व जय हो नृत्य प्रस्तुत किया। इस प्रस्तुति ने दर्शकों को करतल ध्वनि के लिए बाध्य कर दिया। ‘ग्लोबल वर्ल्ड’ विषय के अंतर्गत स्पेनिश, जापानी फैन डांस व इंग्लिश डांस पेश किया गया ।प्रतिभागी छात्र विभिन्न रंग-बिरंगे आकर्षक परिधानों में बहुत सुंदर लग रहे थे ।उनकी उम्दा प्रस्तुतियों का सिलसिला चलता ही गया और मौजूदा दर्शकों की तालियां अंत तक बंद नहीं हुई । तत्पश्चात ‘ फिट इंडिया मूवमेंट ‘के तहत खेल- जगत से संबंधित एक उत्साहवर्धक नृत्य प्रस्तुति दी गई ।इसमें बच्चों ने योगा ,कबड्डी ,कराटे व स्केटिंग का प्रदर्शन नृत्य के द्वारा किया।’प्लास्टिक हटाओ’ विषय को दर्शाते हुए बच्चों ने टिक -टिक गीत पर नृत्य व रैंप वॉक करके प्लास्टिक का बहिष्कार किया। छोटे बच्चों की ‘कव्वाली ‘ने सबका मन मोह लिया।कार्यक्रम में विशेष आकर्षण का केंद्र 550 वां प्रकाश पर्व रहा ।जिसमें बच्चों ने बढ़- चढ़कर हिस्सा लिया। इसके अंतर्गत बच्चों में गत्तका कला दिखाई और सिक्ख धर्म के सिद्धांतों से अवगत कराया ।अंत में छात्रों ने पंजाबी नृत्य ‘भांगड़े’ द्वारा कार्यक्रम का समापन किया।
आमंत्रित अतिथियों ने दर्शकों के समक्ष अपने विचार रखे ।लेफ्टिनेंट जनरल के.जे सिंह ने अभिभावकों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें अपने बच्चों को आत्मनिर्भर बनाना चाहिए और उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए विभिन्न क्षेत्रों का चयन करना चाहिए।
डॉ विमला अरोड़ा ने शैमरॉक स्कूल के पाठ्यक्रम के बारे में बताया कि कैसे गहन शोध के बाद इनकी पुस्तकें निर्मित की गई हैं। उन्होंने यह भी बताया कि आजकल के दौर में बच्चों के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए। उन्होंने विद्यालय के चयनित उत्कृष्ट विद्यार्थियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। तदोपरांत विद्यालय की रूपरेखा व उपलब्धियों पर प्रकाश डाला गया। अंत में स्कूल के चेयरमैन इंद्रजीत सिंह प्रधानाचार्या रूबी शर्मा व उप-प्रधानाचार्या सुुुमन शर्मा जी ने अतिथियों व अभिभावकों का तहे दिल से अभिनंदन किया और कहा कि ”अच्छा लगता है जब बच्चे कुछ नया करते हैं और सीखते हैं और हर एक तरह से हम यही कोशिश करेंगे कि हर एक छात्र सही दिशा में जाए और कुछ नया सीखें।मेरी हमेशा से यह तमन्ना रही है कि बच्चे फूल ही ना बने अपितु फल बनकर अपने माता-पिता और स्कूल का नाम भी रोशन करें”।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।