कठूमर थाना पुलिस ने एटीएम बदलकर धोखाधड़ी कर रुपए निकालने के आरोप में दो आरोपियों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया इस मामले में 1 माह पूर्व एक आरोपी साजिद उर्फ बुल्ला निवासी बलदेव बास को गिरफ्तार किया जा चुका है।
December 15th, 2019 | Post by :- | 178 Views

कठूमर, अलवर (अशोक भारद्वाज):-

कठूमर थाना प्रभारी राजेश वर्मा ने बताया कि ने बताया कि मुकदमा नंबर 390/19 धारा 420 के तहत भरतपुर जिले के खोह थाना निवासी बलदेव बास सद्दाम पुत्र ईशा व महेंद्र को रविवार नगर बस स्टैंड से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने अलवर स्थित डयूटी मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया। जहां मजिस्ट्रेट ने 2 दिन के पीसी रिमांड पर दोनों आरोपियों को भेजने के निर्देश दिए।
उल्लेखनीय है कि खेड़ा मैदा निवासी आरपीएफ में जम्मू में तैनात जवान दिनेश मीणा की पत्नी द्वारा एटीएम बदलकर धोखाधड़ी कर ₹100000 निकालने का मामला दर्ज कराया गया इस प्रकरण अनुसार दिनेश मीणा की पत्नी 21 सितंबर को दोपहर 1:00 बजे कठूमर स्थित पीएनबी बैंक के एटीएम से रुपए निकालने गई। एक बार एटीएम लगाने के बाद रुपए नहीं निकले तो वहां दो अज्ञात व्यक्ति खड़े थे। रुपए निकालने की बात कहकर कुसुम से एटीएम ले लिया। और रुपए नहीं निकलने का बहाना करते हुए एटीएम को दूसरे एटीएम से बदल लिया। रुपए नहीं निकलने पर कुसुम वापस गांव लौट गई। इसके बाद पैसे की आवश्यकता होने पर 27 सितंबर को खेड़ली स्थित स्टेट बैंक के एटीएम रुपए निकालने के लिए पहुंची। वहां एटीएम लगाने पर पता चला कि यह एटीएम के पिन कोड को नहीं मान रहा है। तब इन्हें एटीएम बदलने का आभास हुआ। इस पर पीड़ितों द्वारा बैंक से खाते की डिटेल निकलवाई गई। जिसमें 21 तारीख से लेकर 25 तारीख तक खैरतल , डीग और रामगढ़ आदि स्थानों के एटीएम में से कई बार में एक लाख की निकासी दो अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कर ली गई । ज्ञात रहे कि कठूमर में एटीएम बदलकर कई लोगों से रुपए की निकासी की ठगी की जा चुकी है पुलिस को इन आरोपों से इन मामलों में सुराग मिलने की उम्मीद है।
फोटो:- ग्राम खेड़ा मैदा के फौजी दिनेश मीणा की पत्नी से एटीएम बदलकर एक लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले गिरफ्तार दो आरोपी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।