नूह जिले में नाबार्ड द्वारा स्वयं सहायता समूहों का डिजिटाईजेशन के लिए ई-शक्ति कार्यक्रम शुभारंभ
December 13th, 2019 | Post by :- | 108 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  नूह जिले के स्वयं सहायता समूहों का लेखा-जोखा अब ई-शक्ति पोर्टल पर होगा। नाबार्ड द्वारा जिले में इसका शुभारंभ शुक्रवार को नूह डीआरडीए हाल में हुई बैठक में किया गया। बैठक में एलडीएम सत्य प्रकाश सिंह, सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक हर्ष शर्मा, सिंडआरसेटी के निदेशक बीरी सिंह, एचएचआरएलएम के डीपीएम अब्दुल रब असरी, वित्तीय साक्षरता केंद्र के सलाहकार, बैंकों से आए शाखा प्रबंधक/अधिकारी, एचएसआरएलएम व एमडीए के जिला व ब्लॉक कर्मचारी सहित अन्यों ने भाग लिया। नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक विजय नागरा ने कहा कि ई-शक्ति कार्यक्रम देश के 100 जिलों में चलाया जा रहा है जिसमें हरियाणा राज्य के चार जिले अंबाला, करनाल, सोनीपत एवं सिरसा शामिल हैं। इस वर्ष 150 अन्य जिलों को शामिल किया गया। जिसमें से हरियाणा राज्य के 7 जिले नूह, पंचकूला, यमुनानगर, रोहतक, कैथल, फतेहाबाद व महेंद्रगढ़ को शामिल किया गया है। विजय नागरा ने बैंकों को बताया कि नाबार्ड द्वारा स्वयं सहायता समूह बनाने एवं उन्हें बैंकों से जोडऩे की तरफ विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिले में लगभग 5000 एसएचजी कार्य कर रहे हैं जिले में स्वयं सहायता समूहों को ई-शक्ति पोर्टल से जोडऩे का कार्य एचएसआरएलएम को लगभग 3000 एवं एमडीए को लगभग 1550 का प्रोजेक्ट नाबार्ड द्वारा स्वीकृत किया गया है। पोर्टल में समूहों का संपूर्ण रिकॉर्ड जैसे समूह गठन, बैठक, बैंक खाता खोलने व क्रेडिट लिंकेज के विवरण, समूह की बचत एवं ऋण राशि, समूह के सदस्यों का केवाईसी, उनकी आमदनी, सामाजिक सुरक्षा तथा अन्य जानकारी एकत्रित करके ई-शक्ति पोर्टल पर अपलोड की जाएगी जिसे बाद में स्मार्टफोन के माध्यम से अपडेट किया जाएगा। पोर्टल बैंकों के लिए बहुत लाभदायक है जैसे ऋण प्रार्थना पत्र, समूहों की ग्रेडिंग-आईबीए/नाबार्ड नोम्र्स, एसएमएस अलर्ट की सुविधा, एसएचजी ऋण का स्टेटस, एमआईएस रिपोर्ट, एप्प के माध्यम से नियमित अपडेट, ऋण की स्वीकृति आदि बैंक पोर्टल के माध्यम से जानकारी हासिल कर सकते हैं। स्वयं सहायता समूहों को डिजिटाईसड करने से बैंकों को एक क्लिक करने से उनके संबंध में सभी जानकारी जैसे ग्रुप का नाम, सदस्यों की संख्या नाम सहित, आधार संख्या, एपीएल/बीपीएल, एससी/एसटी, वित्तीय/गैर-वित्तीय जानकारी, बचत, ऋण, पहले लिया गया ऋण, वर्तमान ऋण, वसूली, आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी पोर्टल पर अपलोड कर दी जाएगी जिसमें एसएमएस अलर्ट का भी प्रावधान है। बैंकों से आग्रह किया गया कि स्वयं सहायता समूहों को बैंकों से जोडऩे में विलंब न करें। वहीं एलडीएम सत्य प्रकाश सिंह ने बैंकों को स्वयं सहायता समूहों को ऋण देने का आह्वान किया और इस संबंध में लंबित ऋण प्रार्थना पत्रों को जल्द निपटारा करने के लिए आग्रह किया। बैंक, ई-शक्ति पोर्टल का उपयोग कर समय की बचत एवं सटीक जानकारी हासिल कर ऋण तुरंत स्वीकृत कर सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।