अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में डॉक्टर कामराज सिंधु गुरु जी को सम्मानित किया
December 12th, 2019 | Post by :- | 146 Views

सोनीपत :   ओपी जिंदल ग्लोबल विश्वविद्यालय सोनीपत एवं वार्ड कांस्टीट्यूशन एंड पार्लियामेंट एसोसिएशन अमेरिका WCPA के संयुक्त तत्वावधान में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसका मुख्य विषय क्लाइमेट चेंज एंड अमेजिंग वर्ल्ड गवर्नमेंट मुख्य अतिथि के रूप में डॉक्टर ग्लेन एंड मार्टिन , विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ कामराज सिन्धु ने अपना व्याख्यान दिया ।

उन्होंने कहा कि पर्यावरण में बदलाव प्रदूषण में बदलाव चिंता का विषय है चिंतन का विषय है अगर आने वाले समय में भारत के लोगों ने वायु प्रदूषण जलवायु परिवर्तन में कोई ठोस कदम नहीं उठाए तो वह दिन दूर नहीं जब पूरा भारत इस प्रदूषण के आगोश में समा जाएगा अगर समय रहते इस पर काबू नहीं किया गया चिंतन और मनन नहीं किया गया तो अभी हाल में दिल्ली में जो दृश्य आप सब लोगों के सामने हैं स्कूल की छुट्टियां करनी पड़ी ऐसे महानगर भारत में और भी बहुत हैं जिसमें प्रदूषण का शिखर विश्व में सबसे ऊपर है आए दिन प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन पर विश्व भर में चिंतन हो रहा है। देश और विदेश में इस विषय को लेकर आए दिन सम्मेलन हो रहे हैं देश और विदेश के स्कॉलर विशेषज्ञ इस में भाग ले रहे हैं सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल को हासिल करने के लिए पांच आधारभूत तत्वों पर निर्भर होता है संतुलन बनाना पड़ता है जिसमें पृथ्वी अग्नि जल वायु आकाश आदि देश और विदेश में इस विषय पर 10 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया है ।

डॉक्टर कामराज सिंधु गुरूजी अध्यक्ष हिंदी विभाग दूरवर्ती शिक्षा निदेशालय कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र को गेस्ट ऑफ ऑनर के रूप में सम्मानित किया गया है आने वाले 27 से 31 दिसंबर को 2019 में कोलकाता में एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का भी आयोजन किया जा रहा है जिसमें पूरे विश्व से थिंकर ,राइटर पीस ऑफ मीट पर चर्चा करेंगे मैं इस सम्मेलन में जिन जिन विद्वानों ने भाग लिया अमेरिकाWCPA प्रेसिडेंट ,फिजी के हाई कमिश्नर योगेश अफ्रीका, मलेशिया के विद्वान, ओपी जिंदल ग्लोबल विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ वाईएसआर मूर्ति रमा शर्मा जापान ,डॉ यू जेनिया ,डॉ दायिनन मलेशिया, स्वामी अग्निवेश अंतरराष्ट्रीय सदस्य पी मेनन नरसिंहामूर्ति अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के संयोजक डॉ राकेश छोकर व डॉ हरीश कुमार रंगा जी । अफ्रीका अमेरिका जापान कनाडा ऑस्ट्रेलिया भारत की शिक्षा विद पर्यावरण विशेषज्ञ और विद्वानों ने भाग लिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।