फ्रांस से लौट आई देश की बेटी, कल्पना चावला स्कॉलरशिप के तहत गई थी इंटरनेशनल स्पेस यूनिवर्सिटी
August 25th, 2019 | Post by :- | 358 Views
  • अंतरराष्ट्रीय खगोल अनुसंधान विश्वविद्यालय में प्रशिक्षण हेतु कल्पना चावला स्कॉलरशिप में तहत गई थी फ्रांस
  • भारत से चुने गए थे सिर्फ चार विद्यार्थी
  • नित्या पाण्डेय छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के कोंडागांव ज़िला की है निवासी
  • ब्राह्मण समाज़ ने किया देश वापसी पर भव्य स्वागत

छत्तीसगढ़ (अरुण कुमार पाण्डेय) कोंडागांव । अंतरिक्ष वैज्ञानिक कल्पना चावला में नाम पर अंतरिक्ष विज्ञान की पढ़ाई करने वाले होनहार विद्यार्थियों को फ्रांस सरकार द्वारा स्कॉलरशिप प्रदान करके देश की प्रतिभाओं को उभरने का अवसर देने का प्रयास हिंदुस्तान की सरकार लगातार कर रही है।

बचपन से चांद पर पैर रखने की इच्छा रखने वाली छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के कोंडागांव ज़िला की बेटी नित्या (मेघा) पाण्डेय को भी फ्रांस जाकर इंटरनेशनल स्पेस विश्वविद्यालय में अध्ययन हेतु कल्पना चावला स्कॉलरशिप मिला था, वे आज फ्रांस से सुबह ही भारत पहुंच गई थी।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से नित्या को घर लाने उसके पिता बी.पी. पाण्डेय,भाई गौरव पाण्डेय व ममेरे भाई अंकित मिश्रा सुबह से ही इंतज़ार कर रहे थे।

नित्या अपने गृहग्राम कोंडागांव सड़क मार्ग से शाम करीब 7:30 बजे पहुंच गई।, ब्राह्मण समाज़ की गरिमा बढ़ाने वाली समाज़ की बेटी का ब्राह्मण समाज़ द्वारा गृहग्राम पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया।

इस दौरान काफ़ी अधिक संख्या में नगरवासियों ने एकत्रित होकर नित्या पाण्डेय का स्वागत किया।

नित्या पाण्डेय ने बस्तर के सभी विद्यार्थियों को अपनी प्रशिक्षण के दौरान मिली अनुभव को साझा कर बस्तर के युवाओं को प्रेरित करने की बात कही।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।