दुर्घटनाएं रोकने के लिए एसडीएम बराड़ा ने वाहनों पर लगाई रिफ्लेक्टर टेप
December 6th, 2019 | Post by :- | 73 Views

अंबाला , बराड़ा ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी )

एसडीएम बराड़ा भारत भूषण कौशिक ने अपने कार्यालय में पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ सम्बधिंत अधिकारियों के साथ बैठक लेकर वाहनों पर रिफ्लैक्टर टेप लगाने बारे चर्चा करते हुए इस दिशा में उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। एसडीएम ने स्वयं अधिकारियों के साथ बराड़ा के मुख्य बाजारों में प्राईवेट वाहनों, स्कूली वाहनों पर रिफ्लैक्टर लगाने का कार्य शुरू किया।

एसडीएम ने बताया कि धुंध के  मौसम में वाहनों पर रिफ्लैक्टर टेप लगाए जाने अति आवश्यक होते हैं। उन्होनें कहा कि यदि वाहनों पर रिफ्लैक्टर टेप लगी होती हैं तो धुंध के मौसम मे ही नहीं रात के समय में सामने चल रहा वाहन आसानी से नजर आ जाएगा और दुर्घटना की आंशका बेहद कम हो जाती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यातायात नियमों के प्रति किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए, बल्कि नियमों की पालना करनी चाहिए। ऐसी सावधानियां बरतकर हम सडक़ दुर्घटनाओं को कम कर सकते हैं। रिफ्लैक्टर टेप लगाने के कार्यक्रम के तहत थाना प्रबन्धक ट्रैफिक बलविन्द्र सिंह, खण्ड शिक्षा अधिकारी राम प्रकाश व मार्किट कमेटी बराड़ा व मुलाना के कर्मचारियों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एसडीएम भारत भूषण कौशिक ने यह भी कहा कि लोगों को यातायात नियमों व मोटर वाहन (संशोधित)अधिनियम की जानकारी दी जाये। सडक़ दुर्घटनाओं का एक प्रमुख कारण वाहन चालकों द्वारा यातायात नियमों की अवहेलना करना है।

उन्होंने कहा कि 1 सितम्बर से मोटर वाहन (संशोधित)अधिनियम को लागू किया गया है जिसमें वाहन चालकों को यातायात नियमों की उल्घना करने पर जुर्माने एवं सजा का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि दुपहिया वाहन चलाते समय हैल्मेट का प्रयोग किया जाए और चौपहिया वाहन चालक सीट बैल्ट लगाये। किसी भी प्रकार का नशा करके गाड़ी न चलाये। सभी वाहन चालकों को यातायात नियमों एवं संकेत चिन्ह्नों की जानकारी होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि वन वे, ओवर टेक न करे, अधिक देर तक हार्न न बजाये, यू टर्न न ले, अपनी लेन  में चले बार-बार अपनी लेन न बदले इससे दुर्घटना होने की सम्भावाना बढ जाती है, निर्धारित स्पीड में गाड़ी चलाये, गाड़ी मोड़ते समय इंडिकेटर का प्रयोग करे ताकि पीछे वाले वाहन चालक को पता चल जाए कि आप किस दिशा में मुडऩे वाले है। पार्किग एरिया में ही वाहन खड़ा करे। उन्होंने कहा कि यातायात चिन्ह्नों का अर्थ भी पता होना चाहिए।  ताकि सडक़ पर चलते समय कोई दुर्घटना न हो। सडक़ दुर्घटना होने पर टोल फ्री नम्बर 1073 तथा पुलिस कन्ट्रोल रूम नम्बर 100 पर सम्पर्क कर सकते है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।