पीकेआर जैन पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया |
December 5th, 2019 | Post by :- | 74 Views

अम्बाला ( अशोक शर्मा )

पीकेआर जैन पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया | समारोह के मुख्य अतिथि अंबाला के उपायुक्त श्री अशोक कुमार शर्मा आईएएस जो अपनी कर्मठता एवं निष्ठा के लिए जाने जाते हैं | विद्यालय के बैंड द्वारा उनका स्वागत करते हुए उन्हे समारोह स्थल तक लाया गया |
 प्रधान श्री धर्मपाल जैन , उपप्रधान प्रोफेसर अशोक जैन , सचिव श्री अशोक जैन , मैनेजर श्री गौरव जैन, कोषाध्यक्ष श्री हर्ष जैन, सह सचिव श्री वरुण जैन इन सभी ने पुष्पगुच्छ पेंट कर उनका हार्दिक अभिनंदन किया | तत्पश्चात मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्वलित कर समारोह  का आगाज किया| उत्सव का आरंभ महामंत्र नवकार से किया गया | इस अवसर पर गणमान्य अतिथियों में श्री प्रेमभूषण जी जैन कन्वीनर पीकेआर हेल्थ केयर इंस्टीट्यूट , श्री गुलशन कुमार जैन कन्वीनर एवं सचिव पीकेआर जैन कॉलेज ऑफ एजुकेशन श्री अमन जैन कन्वीनर पीकेआर जैन वाटिका श्री अमित जैन कन्वीनर पीकेआर जैन गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल के साथ-साथ समाज के कई वरिष्ठ एवं गणमान्य अतिथियों ने  समारोह की शोभा बढ़ाई| गणेश  वंदना के बाद सचिव श्री अशोक जैन जी ने मुख्य अतिथि को संबोधित करते हुए उनका स्वागत किया |आज के इस कार्यक्रम में संपूर्ण विश्व की झांकी प्रस्तुत की गई | अगर एक तरफ भक्ति से सराबोर कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया तो दूसरी और देशभक्ति से गुजरात का लोक नृत्य, परियों के लोक की खूबसूरती ,जापानीज ,अरेबियन , इटालियन नृत्य, पंजाब का लोक नृत्य भांगड़ा सभी को मोह करने में सफल रहे| सबसे उत्कृष्ट कृति रही जैन धर्म के तीर्थंकरो को प्रस्तुत करती एक नृत्य नाटिका जिसने सभी को भाव विह्वल कर दिया|
 मुख्य अतिथि जी ने अपने भाषण में कहा कि विद्यालय सभी क्षेत्रों में अग्रणी रहते हुए जिले में ही नहीं पूरे हरियाणा राज्य में अपना एक विशेष स्थान रखता है | प्रधानाचार्य  श्रीमती नीरू शर्मा ने मुख्य अतिथि को अपना अमूल्य समय देने के लिए एवं आए हुए सभी गणमान्य अतिथियों का अभिनंदन सत्कार करते हुए धन्यवाद दिया और कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ |

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।