एडीजीपी ओपी सिंह ने राहगीरी कार्यक्रम वृहद पैमाने पर मनाने के लिए अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश तथा कहा कि राहगीरी कार्यक्रम में विशेष थीमों को ध्यान में रखकर आयोजित किए जाए कार्यक्रम।
December 4th, 2019 | Post by :- | 34 Views

        अम्बाला ( अशोक शर्मा) 

एडीजीपी ओपी सिंह ने राहगीरी कार्यक्रम वृहद पैमाने पर मनाने के लिए अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश तथा कहा कि राहगीरी कार्यक्रम में विशेष थिमों को ध्यान में रखकर आयोजित किए जाए कार्यक्रम।
अम्बाला, 4 दिसम्बर:- पूर्व आईपीएस ओ.पी. सिंह (स्पेशल ऑफिसर टू मुख्यमंत्री हरियाणा) ने कहा कि 8 दिसम्बर को आयोजित होने वाले राहगीरी कार्यक्रम का विषय राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस, दिव्यांगजनों के लिए विश्व दिवस, अंतर्राष्ट्रीय स्वयं सेवक दिवस एवं सोईल डे तथा एंटी करप्शन डे रहेगा। यह सभी दिवस दिसम्बर माह के प्रथम पखवाड़े में ही आते हैं। इसलिए इस बार का राहगीरी का थीम इन विषयों को रखा गया है। वे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से राहगीरी कार्यक्रम के संबध में जरूरी दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में अधिक से अधिक युवाओं, कालेज-स्कूल के विद्यार्थियों, महिलाओं एवं पुरूषों, एनएसएस, एनसीसी तथा नेहरू युवा केन्द्र के वलैंटियरस अलावा खेल एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में भाग लेने वाले लोगों को राहगीरी कार्यक्रम के साथ जोड़ा जाये। उन्होंने कहा कि राहगीरी कार्यक्रम के आयोजन करने का उद्देश्य लोगों को तनाव से दूर एक खुशनुमा माहौल में मनोरंजन के साथ-साथ शारीरिक गतिविधियों को बढ़ावा देना है जिससे व्यक्ति स्वस्थ रहे।
वीसी में मिले दिशा-निर्देशों की अनुपालना में वीसी उपरांत अतिरिक्त उपायुक्त जगदीप ढांडा ने अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें निर्देश दिये कि यह सुनिश्चित किया जाए कि राहगीरी में अधिक से अधिक लोग भाग लें। उन्होंने कहा कि 8 दिसम्बर रविवार को अम्बाला शहर में हर्बल पार्क चौक पर राहगीरी कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। उन्होंने शिक्षा एवं खेल विभाग, नेहरू युवा केन्द्र के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे विद्यार्थियों के साथ-साथ खिलाडिय़ों तथा स्वयं सेवकों को भी इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करें। इसके अलावा इस बार के राहगीरी कार्यक्रम में जो विषय निर्धारित किए गये हैं उन पर विशेष तौर पर फोक्स किया जाये और राहगीरी में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को प्रदूषण नियंत्रण, मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ाने, फसल अवशेष न जलाने, जल का संचय एवं भूमिगत जल का सदुपयोग करने आदि विषयों पर जागरूकता एवं प्रेरक कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को जानकारी भी दी जाये। इस अवसर पर डीएसपी मुनीष सहगल, खेल विभाग के उप निदेशक अरूण कांत, डिप्टी डीईओ सुधीर कालड़ा, डीआईओ विनय गुलाटी, इंस्पैक्टर सोमेश कुमार के अलावा कृषि, सोशल वैल्फेयर सहित अन्य विभागों के अधिकारी और विभिन्न कालेज के प्रिंसीपल भी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।