दस वर्ष बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का तीन मंजिला भवन बनकर हुआ तैयार
December 2nd, 2019 | Post by :- | 94 Views

अम्बाला, बराड़ा:(जयबीर राणा थंबड़)         7 करोड़ की लागत से बने भवन में मरीजों को मिलेगी ओपीडी, ऑपरेशन थिएटर, अल्ट्रासाउंड, ईसीजी, एक्स रे व लिफ्ट सहित 30 बिस्तरों की सुविधा।

लगभग एक दशक पहले बराड़ा के प्राथमिक चिकित्सा केंद्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा के बावजूद अब तक यह पुराने भवन में ही चल रहा था परंतु लोगों की भारी मांग के चलते सीएम ने बराड़ा रैली में इसके भवन निर्माण की सैद्धांतिक घोषणा कर दी। आवश्यक दस्तावेज तथा निंविदा आमंत्रण प्रक्रिया के बाद 7 करोड रुपए की लागत से तीन मंजिला भवन अब लगभग बनकर तैयार है। जिसका अगले माह किसी भी समय लोकार्पण होने की संभावना है। बता दें कि पीएचसी को अपग्रेड करके सीएचसी बनाने की घोषणा वर्ष 2009 में की गई थी परंतु सरकारी उदासीनता व लालफीताशाही के चलते यह सीएचसी पुराने भवन में ही चलता रहा। नए भवन निर्माण का कार्य भी 11 सितंबर 2017 को आरंभ किया गया जिसको वर्ष 2018 के अंत तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। परंतु इस बीच निर्माण स्थल पर पानी भरने तथा विस्तार संबंधी अन्य औपचारिकताओं के कारण अनावश्यक विलंब के चलते इसका निर्माण कार्य पूरा करने में विलंब हुआ। बहरहाल जो भी हो बराड़ा वासियों को शीघ्र ही आधुनिक सुविधाएं युक्त नए भवन की सौगात मिलने वाली है।

तीन मंजिले भवन में क्षेत्र के लोगों को मिलेगी आधुनिक चिकित्सा सुविधाएं:

तीन एकड़ भूमि में बने इस तीन मंजिला भवन में क्षेत्र के मरीजों को 30 बिस्तर इनडोर मरीजों के लिए इलाज व्यवस्था के साथ ओपीडी, ऑपरेशन थिएटर, अल्ट्रासाउंड, एक्स-रे आदि की सुविधा उपलब्ध होगी। भवन के प्रथम तल पर पार्किंग, स्वागत कक्ष, ओपीडी, नर्सिंग रूम तथा आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। वहीं दूसरे तथा तीसरे तल पर चिकित्सकों और नर्सिंग रूम, ओ.टी.व महिला वार्ड का प्रावधान किया गया है। इसके अतिरिक्त भवन के तीनों तलों पर पुरुष एवं महिला शौचालय, वाटर कूलर के साथ साथ लिफ्ट की सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। वहीं आधा एकड़ में बगीचे भी बनाया गया है।

बाक्स: सीएचसी में प्रतिदिन 150 से 250 मरीज चिकित्सा सुविधा पाने के लिए आते हैं। केन्द्र में वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी सहित 7 चिकित्सा अधिकारी, 7 नर्स, 2 फार्मासिस्ट, एक एक्स-रे टेक्निशियन, एक प्रयोगशाला तकनीकी सहायक, एक दंत चिकित्सक, एक आयुर्वेदिक चिकित्सक, एक लेखाकार, एक लिपिक, एक सहायक, 6 चतुर्थ वर्ग कर्मचारी, एक चौकीदार व 2 सफाई कर्मचारी तथा आईटीआई के पासआऊट स्टूडेंट ट्रेनिंग के तहत इलाज के लिये आने वाले मरीजों को यथा योग्य सेवाएं उपलब्ध करवाते हैं।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनकर तैयार है, इसे स्वास्थ्य विभाग को सौंप दिया जाएगा। शीघ्र ही इसका लोकार्पण किया जाएगा। प्रमोद कुमार, जेई लोक निर्माण विभाग हरियाणा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।