राजकीय महाविद्यालय कालका में किया गया आई क्यू ए सी की बैठक का आयोजन
December 1st, 2019 | Post by :- | 130 Views

कालका (हरपाल सिंह) ।  राजकीय महाविद्यालय कालका में आई क्यू ए सी की तीसरी बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता प्राचार्या कुसुम आद्या तथा समन्वयक प्रो वंदिता शर्मा ने की। ज्ञात हो कि महाविद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने के लिए आई क्यू ए सी का गठन किया गया है। यह प्रकोष्ठ महाविद्यालय के सभी पहलुओं की गुणवत्ता के सुधार के लिए कार्यरत रहती है। इसके अन्तर्गत एक कोर कमेटी का गठन किया जाता है जिसमें उच्चतर विभाग के अधिकारी, वरिष्ठ प्राध्यापक, विद्यार्थियों समेत पुराने विद्यार्थी, समाज के सम्मानित सदस्य, एन जी ओ एवं इंडस्ट्री के व्यक्ति भी शामिल रहते है। इस बैठक में महाविद्यालय की गुणवत्ता संबंधित सभी पहलुओं पर विचार विमर्श किया जाता है।

बैठक में उच्चतर शिक्षा विभाग की ओर डॉ हेमन्त वर्मा ने शिरकत की।
बैठक का आरंभ प्राचार्या कुसुम आद्या द्वारा स्वागत से किया गया जिसके बाद आई क्यू ए सी के सदस्यों श्रीमती पुनीत,अंजना शर्मा, स्वाति अरोरा, नीतू चौधरी,सीमा शर्मा डॉ इंदु तथा डॉ रागिनी ने पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से महाविद्यालय में होने वाली गुणवत्ता संबंधी विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। बैठक में बताया गया कि उच्चतर शिक्षा विभाग द्वारा महाविद्यालय को ए प्लस गार्ड दिया गया है।

बैठक में उच्च शिक्षा अधिकारी हेमन्त वर्मा ने महाविद्यालय की और से गुणवत्ता सुधार के लिए होने वाले प्रयत्नों की प्रशंसा करते हुए महाविद्यालय में एल्युमनी एसोसियेशन को सुदृढ़ बनाने, विद्यार्थियों की संख्या बढ़ाने, नए रोजगार मुखी कार्यक्रमों को शुरू करने तथा महाविद्यालय के साथ आस पास के उद्योगों के सदस्यों की भागीदारी को बढ़ाने पर बल देने के लिए कहा। उन्होंने महाविद्यालय की गुणवत्ता को सुधारने के लिए विद्यार्थियों की भागीदारी को बढ़ाने पर बल दिया। बैठक में उपस्थित संजय बंसल विद्यार्थियों को रोजगार संबंधी आवश्यक स्किल्स को सीखने की बात रखी। प्रो वीरेंद्र अटवाल ने वाणिज्य संबंधी रोजगार मुखी कार्यक्रमों एवम् विद्यार्थियों को रोजगार दिलाने संबंधी सुझाव दिए। एल्युमनी एसोसियेशन की और से शिवम् जिंदल ने जल्द ही एक ऐप बनाने की पेशकश की जिससे सभी पुराने विद्यार्थियों महाविद्यालय से जोड़ा जा सके। उन्होंने महाविद्यालय में जल्द ही आरंभ होने वाले न्यूजलेटर के लिए अपनी सहायता की पेशकश की।
रोटरी क्लब की ओर से उपस्थित तजिंदर चावला तथा नवीन गुप्ता ने महाविद्यालय में जल्द ही सिलाई केंद्र आरंभ करने के लिए कहा। उन्होंने वाणिज्य विभाग में भी बिना किसी फीस के टैक्स तथा बीमा संबंधी विभिन्न कोर्स आरंभ करने के लिए कहा।

बैठक में उपस्थित महाविद्यालय की अलग अलग कमेटियों के संयोजक डॉ कुलदीप थिंड, कुलदीप सिंह, मीनू ख्यालिया, मनीषा खन्ना, गुलशन कुमार, नीरू, भूप सिंह कशिश जोली आदि ने आपने आपने कर्यों की रिपोर्ट दी तथा अपने कार्यों को और बेहतर करने के लिए सुझाव दिए।

आई क्यू ए सी समन्वयक वंदिता शर्मा ने बताया कि महाविद्यालय 2022 में नाक द्वारा दी जाने वाली मान्यता के लिए प्रयासरत है। इस वर्ष से आई क्यू ए सी द्वारा महाविद्यालय की गुणवत्ता सुधारने में योगदान देने वाले प्राध्यापको को सम्मानित भी किया जाएगा। 2018-19 के लिए प्रो सुशील कुमार, डॉ कुलदीप सिंह थिंड, डॉ कुलदीप सिंह बेनीवाल, डॉ रामचंद्र, डॉ बिंदु, डॉ रागिनी, प्रो जसपाल सिंह तूर, प्रो पूजा सिंगल, डॉ इंदु, प्रो पुनीत, प्रो सीमा शर्मा, प्रो स्वाति, डॉ शबनम और डॉ सोनाली गोयल को सम्मानित किया गया।

बैठक का समापन वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो सर्वजीत कौर द्वारा धन्यवाद से किया गया। इस बैठक को लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन के राकेश कुमार तथा आंध्र बैंक के द्वारा प्रायोजित किया गया था। महाविद्यालय की और से प्रायोजकों का भी धन्यवाद किया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।