हत्या या आत्महत्या ?? संदिग्ध परिस्थितियों में जेसीबी से लटका मिला चालक का शव ।
November 30th, 2019 | Post by :- | 285 Views
  • परिजनों का आरोप पैसे के लेनदेन के चलते हुई हत्या।
  • पुलिस ने की जांच शुरू।
  • आईजीएमसी में करवाएगी पुलिस मृतक का पोस्टमार्टम ।।

 

बीबीएन (राज कश्यप)

औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के निकट ग्राम पंचायत हरिपुर संडोली के तहत शीतलपुर में सरसा नदी किनारे जेसीबी चालक की संदिग्ध परिस्थितियों में लाश मिलने से सनसनी फैल गई। मृतक की लाश जेसीबी के पंजे पर एक कपड़े से बंधी हुई, जिससे प्रथम दृष्टि में मामला आत्महत्या का लग रहा था। लेकिन मृतक के पैर जमीन पर लगे हुए थे और टांगे भी झुकी हुई थी। जिसके चलते पुलिस अब मामले के सभी पहलुओं की जांच में जुट गई है और हत्या की आशंका को लेकर जांच आगे बढ़ाई जा रही है।

मामले की सूचना मिलते ही डीएसपी बद्दी अजय कुमार व एसएचओ बद्दी लखबीर सिंह के नेतृत्व में नदी किनारे पहुंची तो वहां पाया कि जेसीबी से फंदा लगाकर एक युवक की लाश लटकी हुई है। सर्वप्रथम जेसीबी मालिक गुरदयाल सिंह पुत्र छज्जूरराम निवासी कल्याणपुर को किसी ने फोन किया कि आपकी जेसीबी एक सुनसान स्थान पर खड़ी है, और उस पर चालक सर्वजीत निवासी घनौली, जिला रोपड़ पंजाब ने लटक कर फांसी ले ली है। पुलिस ने तुरंत वहां पहुंच कर जेसीबी व लाश को पंचायत प्रधान भाग सिंह कुंडलस के सामने कब्जे में लिया।

जेसीबी मालिक ने कहा कि सुबह सात बजे उसने अपने बद्दी स्थित कार्यालय से जेसीबी मशीन में डीजल डालकर कल्याणपुर गांव के लिए रवाना किया था। उसके बाद वह घर आकर सो गया तो साढ़े आठ बजे सूचना मिली की चालक ने गले को फांसी लगा ली है। जिस पर उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी। वहीं दूसरी ओर घनौला पंजाब से पहुंचे मृतक सर्वजीत पुत्र सीताराम के परिजनों कुलदीप सिंह व अमीचंद ने आरोप लगाया कि मृतक यहां पर दो साल से कार्यरत था। उसका मासिक वेतन 17 हजार रुपये था और 11 महीने से तनख्वाह नहीं मिली थी और सिर्फ भाई की शादी पर सिर्फ 20 हजार उसको थमाए गए थे। उन्होंने आरोप लगाया कि पैसे के लेन देन के चक्कर में उनके भाई की हत्या हुई है, इसलिए इस मामले की पूरी जांच होनी चाहिए।

परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि फांसी का फंदा भी बहुत ही हल्के तरीके से मशीन के पाईप से बंधा था और सर्वजीत की टांगे जमीन पर लगी थीं। जिससे साफ जाहिर होता है कि यह आत्महत्या का मामला न होकर हत्या का है। थाना प्रभारी लखबीर सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए शव का पोस्टमार्टम शिमला आईजीएमसी में करवाने का निर्णय लिया है और पुलिस हर पहलू की बारीकी से जांच कर रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।