उपायुक्त कार्यालय के परिसर में संविधान दिवस के उपलब्ध में जिला प्रशासन द्वारा किया गया कार्यक्रम का आयोजन–संविधान के प्रति आस्था के लिए दिलाई गई शपथ।
November 26th, 2019 | Post by :- | 53 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) जिला प्रशासन द्वारा उपायुक्त कार्यालय के प्रांगण में संविधान दिवस के उपलक्ष में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम में जिला प्रशासन के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया। कार्यक्रम उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित किया गया और इस अवसर पर उपायुक्त ने संविधान दिवस की बधाई देते हुए उपस्थित सभी कर्मचारियों को जहां संविधान का सम्मान करने की शपथ दिलवाई, वहीं उनसे आह्वान किया कि जो सफाई अभियान चलाया जा रहा हैं उसमें वह अपनी भागीदारी निभाएं तथा अपने आस-पास कूड़ा-कर्कट न जलाएं, सिंगल यूज प्लास्टिक व पोलिथीन का प्रयोग न करके पर्यावरण को साफ-सूथरा बनाए रखने में आगे आने का काम करनेें के लिए भी कहा। 
इस अवसर पर उपायुक्त ने बोलते हुए कहा कि भारत में 26 नवम्बर को हर वर्ष संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है, क्योंकि 26 नवम्बर 1949 को आज के दिन ही संविधान सभा द्वारा भारत के संविधान को स्वीकृत किया गया था तथा 26 जनवरी 1950 को इसे लागू किया गया। उन्होंने कहा कि संविधान समिति के अध्यक्ष डा0 भीम राव अम्बेडकर को भारत के संविधान का जनक कहा जाता है। उन्होंने कहा कि देश को चलाने की नीति के तहत संविधान का बनाया गया हैं तथा इसके तहत कई पुस्तकें तैयार की गई हैं और जिन लोगों ने बड़ी मेहनत से इस संविधान को तैयार करने का काम किया हैं उन्हें प्रणाम करते हैं। उन्होनें कहा कि संविधान को लचीला व कठोर दोनों तरीकों से बनाया गया हैं, ताकि समय के अनुरूप यदि उसमें कोई परिवर्तन करना हो तो उसे किया जा सके अगर कठोरता के तहत यदि कोई इस पर प्रहार करता हैं, तो उस पर कठोरता से कार्य किया जा सके। उन्होनें कहा कि संविधान में जहां हमें अपने अधिकारों का पता चलता हैं, वहीं संविधान में अपनी डयूटी का निर्वाह करने बारे भी कहा गया हैं, इसलिए हमें अपनी डयूटी को पूरी निष्ठा से करना चाहिए। 
उन्होनें कहा कि हमें अपने आस-पास सफाई की बेहतर व्यवस्था रखनी चाहिए कूड़ा-कर्कट नहीं फैलाना हैं। उन्होनें कहा कि ऐसा करके हम प्रदूषण से बच सकते हैं वहीं अनावश्यक बीमारियों से भी बच सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जो सफाई अभियान चलाया जा रहा हैं, यदि हम स्वच्छता के प्रति सचेत एवं जागरूक होते हैं तो ऐसे अभियान को चलाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
भारतीय संविधान के प्रति भीम राव अम्बेडकर का स्थाई योगदान भारत के सभी नागरिको के लिए मददगार कदम है। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान पूरे विश्व में अनोखा है और संविधान सभा द्वारा इसे पारित करने में लगभग दो साल 11 महीने से अधिक का समय लगा। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान में जहां देश के सभी लोगों को एक जैसे मौलिक अधिकारी प्रदान किए गए हैं, वहीं मौलिक मौलिक कर्तव्य भी निर्धारित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आज का दिन बनाने का उद्देश्य तभी सार्थक होगा जब हम सभी एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में देश और समाज के उत्थान में अपना सहयोग देने का संकल्प लेते रहेगें।
इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त जगदीप ढांडा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, डीडीपीओ प्रताप सिंह, सुपरिटेंडेंट सुरिन्द्र चावला, मदन सिंह सहित उपायुक्त कार्यालय का स्टाफ व अन्य कर्मचारी उपस्थित रहें। 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।