सरकारी स्कूल के आगे से पुलिस ने पकड़ा युवक, अभिभावकों का देर रात तक थाना में हंगामा
November 25th, 2019 | Post by :- | 94 Views

डीएसपी ओमप्रकाश बिश्नोई पहुँचे पुलिस थाना, जांच के लिए तीन दिन का समय

रायपुर रानी, लोकहित एक्सप्रेस

सोमवार का दिन रायपुर रानी पुलिस थाना में हंगामे की भेंट चढ़ गया, हुआ ये कि पुलिस ने कस्बा के सरकारी स्कूल के आगे से मोटरसाइकिल सवार एक युवक को पकड़ लिया और थाना में ले आई। जिसके बाद युवक के परिजनों ने थाना परिसर में हंगामा किया और पुलिस पर नजायज कार्यवाही करने के आरोप लगाये। थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रामपाल सिंह ने बतायाकि दोपहर के समय थाना में सरकारी स्कूल की प्रिंसिपल का फोन आया था कि स्कूल के बाहर कुछ शरारती किस्म के लड़के एकत्रित होकर लड़ाई झगड़े करने की फिराक में है। जिसपर एसएचओ अपनी पुलिस टीम के साथ स्कूल के बाहर पहुंच गये। स्कूल के बाहर खड़े लड़के पुलिस को देखकर भाग गये और जब पुलिस वापिस जाने लगी तो प्रिंसिपल का दोबारा फोन आया कि शरारती लड़के फिर इक्कठे हो सकते है। जिसपर पुलिस ने स्कूल के बाहर ही नाकाबंदी कर ली और नियमो का पालन न करने वाले मोटरसाइकिल व वाहनो के चालान काटने लगे। तभी मोटरसाइकिल पर आये एक युवक को रुकने का इशारा किया तो मोटरसाइकिल सवार युवक साइड से भागने की कोशिश करने लगा पुलिस कर्मी ने उसे वही पकड़ लिया। पुलिस ने बतायाकि युवक उनके साथ धक्का मुक्की / गलत व्यवहार करने की कोशिश करने लगा जिसपर पुलिस उसे पकड़ कर थाना में ले आई और उसका मोटरसाइकिल इंपाउंड कर दिया। सूचना मिलते ही युवक के परिजन थाना में पहुँचे और पुलिस पर युवक से नाजायज मारपीट करने का आरोप लगाया। युवक के पिता देव खान हरयोली ने बतायाकि उनके लड़के के साथ पुलिस ने गलत व्यवहार किया और उसकी बेवजह नाजायज मारपीट भी की। दोपहर से लेकर देर शाम साढ़े सात बजे तक थाना में भारी हंगामा होता रहा। देवखान हरयोली जजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य है और उनके साथ जजपा नेता भागसिंह दमदमा व पंचकूला से जजपा प्रत्याशी रहे अजय गौतम भी थाना में मौजूद रहे। हंगामा बढ़ने की खबर मिलते ही डीएसपी ओमप्रकाश बिश्नोई पुलिस थाना पहुँचे और मामले को शांत करवाया। देवखान ने बतायाकि डीएसपी महोदय के सामने ही मोटरसाइकिल के अंदर से मोटरसाइकिल के सारे कागज़ात निकाले गये जो बिल्कुल सही पाये गये फिर पुलिस में उनके मोटरसाइकिल को इंपाउंड क्यो किया । देवखान ने मांग की है कि कसूरवार पुलिस कर्मियों के खिलाफ उचित कार्यवाही की जाये। वही डीएसपी ओमप्रकाश बिश्नोई द्वारा मामले की जांच के लिए तीन दिन का समय दिया और पकड़े हुए युवक को घर भेज दिया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।