जनहित की सोच के साथ आगे बढ़ रही है मनोहर सरकार : नरेश कौशिक
November 24th, 2019 | Post by :- | 68 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ(गौरव शर्मा)

– पूर्व विधायक नरेश कौशिक ने खेड़ी जसौर सरपंच दीपक का किया स्वागत
– गुरू तेग बहादुर शहीदी दिवस व दीनबंधु छोटूराम के दिखाए मार्ग पर आगे बढऩे के लिए किया प्रेरित
बहादुरगढ़, 24 नवंबर पूर्व विधायक नरेश कौशिक ने खेड़ी जसौर गांव के नवनिर्वाचित सरपंच दीपक को बधाई देते हुए बेहतर तरीके से ग्रामीण विकास की दिशा में कदम उठाने के लिए प्रोत्साहित किया। रविवार को सरपंच दीपक ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों के साथ श्री कौशिक से उनके कार्यालय में मिला और दी गई जिम्मेवारी को पूरी निष्ठïा से निभाने का विश्वास दिलाया। पूर्व विधायक कौशिक ने रविवार को गुरू तेग बहादुर शहीदी दिवस तथा दीनबंधु सर छोटूराम की जयंती पर उनके दिखाए मार्ग पर निरंतर आगे बढऩे के लिए हलकावासियों को प्रेरित भी किया।
पूर्व विधायक नरेश कौशिक ने कहा कि गांव खेड़ी जसौर के सरपंच पद के रूप में दीपक सहित अन्य ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा ग्रामीण विकास के लिए उठाए गए हर कदम पर सरकार की ओर से पूरा सहयोग दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मनोहर सरकार बिना भेदभाव के जनहित की सोच को सामने रखते हुए विकास योजनाओं को क्रियांवित कर रही है, ऐसे में ग्राम स्तर पर सरकार की योजनाओं को सही ढंग से लागू करवाने में ग्राम पंचायत अपनी सक्रिय भूमिका निभाए।
कौशिक ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में मनोहर सरकार की दूसरी पारी में वे हलके के प्रतिनिधित्व को निरंतर निभाते हुए विकास योजनाओं का लाभ हलकावासियों तक पहुंचाने में सजग हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के समक्ष वे बखूबी पैरवी करते हुए नई विकास योजनाओं को लाने में अपनी भूमिका अदा करेंगे वहीं चल रही पुरानी विकास परियोजनाओं को पूरा कराने में भी सरकार की ओर से कोई कमी नहींं रहने दी जाएगी। उन्होंने हलके के लोगों से रूबरू होते हुए उनकी स्थानीय स्तर पर संबंधित विभागों की शिकायतों का मौके पर सुनवाई करते हुए समाधान करवाया।
इस मौके पर राजेंद्र, विरेंद्र, मंजीत, बलराज, आशिष, योगेश व सुरेंद्र सहित अन्य ग्रामीण मौजूद रहे।
————–
कैप्शन : बहादुरगढ़ में नवनिर्वाचित सरपंच दीपक को बधाई देते पूर्व विधायक नरेश कौशिक।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।