एचएयू में इंग्लैंड के इंजीनियरों ने चार करोड़ से बिछाया अंतरराष्ट्रीय दर्जे का रेसिंग ट्रैक।
November 24th, 2019 | Post by :- | 85 Views

हिसार(लवकेश कथूरिया) चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के गिरी सेंटर में 400 मीटर का अंतरराष्ट्रीय दर्जे का रेस ट्रैक बनकर तैयार हो गया है। इस ट्रैक को अंतिम रूप देने के लिए इंग्लैंड से विशेष इंजीनियर एचएयू में कुछ दिनों से अपनी निगरानी में ट्रैक का निर्माण करा रहे थे। खास बात है कि 400 मीटर के रेसलिंग ट्रैक को कुछ इस तरह से बनाया गया है कि पर अंतरराष्ट्रीय स्तर की 1500 मीटर तक की दौड़ प्रतियोगिताएं भी आसानी से हो सकती हैं। इसकी गुणवत्ता ए-वन श्रेणी की रखी गई है।

यह श्रेणी अंतरराष्ट्रीय खेलों में ट्रैक के लिए सर्वोत्तम मानी जाती है। खिलाडिय़ों के प्रदर्शन में निखार आए इसके लिए ट्रैक के निर्माण में रबड़ के दानों और केमिकल के एक विशेष सोल्यूशन का प्रयोग किया है। इस सोल्यूशन को लगाने के लिए कर्मचारी भी विदेशों से ही आए हैं। इसमें आठ अलग-अलग लाइन बनाई गईं हैं। इस रेङ्क्षसग ट्रैक पर करीब 150 खिलाड़ी हर रोज प्रैक्टिस कर सकते हैं।

इस ट्रैक को बनाने वाले इंजीनियर बताते हैं कि इसमें तारकोल के स्थान केमिकल सोल्यूशन पूरे ट्रैक पर बिछाते हैं, फिर इसके ऊपर से सिंथेटिक के बने दाने डाले जाते हैं। सोल्यूशन अपने आप ही सिंथेटिक के दानों को एडजस्ट कर लेता है। इसके बाद इस पर अगर कोई दौड़ लगाने के दौरान गिर भी जाता है तो चोटिल होने की संभावना कम रहती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।