मुबारिकपुर गावं में करोड़ों का घोटाला , अधिकारी मौन
November 24th, 2019 | Post by :- | 95 Views

मेवात (सद्दाम हुसैन) प्रदेश सरकार भले ही विकास कार्यों में भ्रष्टाचार को रोकने के लाख दावे करती हो,लेकिन सरकार के ये सारे दावे नूंह जिले में सरपंचों व अधिकारियों की मिलीभगत के चलते खोखले साबित हो रहे हैं। जिसके चलते सरकार का सबका साथ ,सबका विकास का नारा भी ढकोसला साबित हो रहा है। भ्रष्टाचार का ताजा मामला पुन्हाना के गांव मुबारिकपुर से सामने आया है, जहां पर ग्रामीणों ने सरपंच पर अधिकारियों से मिलीभगत करके विकास कार्यों के नाम पर करोडों रुपये की राशि हडपने का आरोप लगाया है। जिसमें 1 करोड 38 लाख  रुपये लघुसचिवालय के लिए एक्वायर  की हुई जमीन का, सात लाख गांव की मैन चौपाल के नाम से, साढ़े चार लाख नालियों के नाम पर, दो लाख लाइटों के नाम पर करोडोंं की राशि हडपी है। जिसका खुलासा आरटीआई के माध्यम से हुआ।

 मुबारिकपुर गांव के तारिक़,जुबेर,धर्मवीर,सूबेदार अय्यूब खान सहित काफी लोगों का आरोप है कि सरपंच द्वारा किए गए घोटाले को लेकर वह कई बार अधिकारियों से मिल चुके हैं, लेकिन अभी तक सरपंच के खिलाफ कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि जल्द दोषी सरपंच के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो गांव के सभी लोग लघुसचिवालय पर अनिश्चित कालीन धरना देंगे। जब इस मामले में सरपंच से बात करनी चाही तो उन्होंने इस बारे में कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया।जब इस मामले में BDPO (Block Development & Panchayat Officer)से संपर्क साधने की कोशिश की गई लेकिन उनसे बात नहीं हो पाई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।