एटीएम लूटने का धंधा अब मेवात का युवा वर्ग भी करने लगा है
August 24th, 2019 | Post by :- | 115 Views

वाहन चोरी निरोधक दस्ते की टीम द्वारा पकड़े गए एटीएम चोर व हैकिंग गिरोह के सदस्य अब कई घटनाओं को अंजाम दे चुका है। लोगों के खातों तथा बैंक को लाखों रुपये का नुकसान पहुंचा चुके गिरोह के सदस्यों को कई राज्यों की पुलिस को तलाश है। पकड़े आरोपित नसीम से कई वारदातों का खुलासा हुआ है। पूछताछ के दौरान पांच एटीएम चोरी तथा कई हैकिंग की घटनाएं सामने आई है।

पुलिस के अनुसार नसीम ने बताया है कि छह माह पहले नसीम ने अपने साथियों के साथ मिलकर राजस्थान के डींग की बैंक से एटीएम चोरी किया था। जिसमें 5 लाख 70 रुपये थे। इसी तरह चार माह पहले दिल्ली के छतरपुर क्षेत्र से अपने साथियों के साथ एटीएम चोरी किया था। जिसमें एक लाख 70 हजार रुपये मिले थे। तीसरी एटीएम चोरी घटना दिल्ली की है। वहां से आईसीआइसीआई बैंक एटीएम को चोरी करके 20 लाख 80 हजार रुपये उड़ाए थे। तीन माह पहले राजस्थान के गोपालगढ़ में एसबीआई बैंक के एटीएम का अपने साथियों के साथ चोरा था। इस एटीएम में 12 लाख 40 हजार रुपये निकले थे। जिनके बंटवारे को लेकर सभी साथियों में गोलियां भी चली थी।

पूछताछ के दौरान नसीम ने पुलिस के समक्ष एक एटीएम चोरी का मामला इंदौर का भी बताया है। बताया गया है कि 2017 में उत्तर प्रदेश के इंदौर से नसीम ने अपने साथियों के साथ मिलकर एटीएम तोड़ा था। जिसमें आठ लाख की राशि मिली थी। एटीएम चोरी की इन घटनाओं के अलावा पांच माह पहले गुडग़ांव हैकिंग करके 25 हजार, तीन माह पहले छतरपुर दिल्ली से हैक करके 20 हजार, डेढ़ साल पहले फरीदाबाद से एटीएम कार्ड हैक करके 20 हजार रुपये उड़ाए थे।

वहीं करीब डेढ़ साल पहले राजस्थान के पहाड़ी बैंक के एटीएम से हैक करके 50 हजार, दो तीन माह पहले पुन्हाना बैंक से हैक करके आठ हजार, डेढ़ साल पहले जयपुर से हैक करके 70 हजार रुपये की राशि अपने साथियों के साथ मिलकर उड़ाई। इसके अलावा भी कई बैंकों से एटीएम कार्ड हैक करके दूसरों के खातों से रुपये उड़ाने की घटनाएं की।सब इंस्पेक्टर मोहम्मद इलियास का कहना था कि जहां-जहां की घटनाएं पुलिस के सामने आई हैं, वहां की पुलिस को सूचित कर दिया गया। ताकि वहां कि पुलिस पूछताछ के लिए प्रोडेक्शन वारंट पर ले सके।

वहीं समाजसेवी व शहीदाने मेवात सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरफुद्दीन मेवाती का कहना है की मेवात का युवा वर्ग गौ तस्करी का घिनौना कार्य छोड़कर एटीएम तोड़ने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा की मेवात का बेरोजगार युवाओं को स्वयं रोजगार अपनाकर सही जीवन जीना चाहिए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।