अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में नजर आएंगे विश्व की संस्कृति के बहुरंग : फुलिया
November 22nd, 2019 | Post by :- | 174 Views

कुरुक्षेत्र, ( सुरेश पाल सिंहमार )    ।   अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 में विश्व की संस्कृति के बहुरंग नजर आएंगे। इस महोत्सव में अलग-अलग देशों की संस्कृति के रंग बिखरने से कुरुक्षेत्र की फिजा में भी विभिन्न प्रदेशों और देशों की महक फैलेगी। इसका एहसास महोत्सव में आने वाले पर्यटक को खुद ब्रहमसरोवर के पावन तट पहुंचने पर हो जाएगा। इस महोत्सव में राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर के शिल्पकार अपनी-अपनी शिल्पकला के साथ पहुंच चुके है। इन कलाकारों और महोत्सव का आनंद लेने वाले लाखों लोगों के स्वागत के लिए प्रशासन ने तमाम तैयारियां पूरी कर ली है और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए गए है।

उपायुक्त डा. एसएस फुलिया शुक्रवार को केडीबी कार्यालय में अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि कुरुक्षेत्र के ब्रहमसरोवर के तट पर अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में शिल्प और सरस मेले का आयोजन 23 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक किया जाना है। उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक कला केन्द्र, एचटीसी और डीआरडीए की तरफ से ब्रहमसरोवर पर क्राफ्ट और सरस मेले का आयोजन किया जाएगा। ये मेले सुबह 10 बजे से लेकर रात्रि 9 बजे तक चलेंगे। उन्होंने कहा कि 3 दिसम्बर को ब्रहमसरोवर पर अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के मुख्य कार्यक्रमों का शुभारम्भ होगा।

उन्होंने कहा कि सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग की तरफ से 3 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक राज्यस्तरीय विकासात्मक प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। इस प्रदर्शनी के साथ सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक संस्थाओं की प्रदर्शनी भी शुरु होगी। उन्होंने कहा कि महोत्सव में श्रृद्घालु और पर्यटकों के लिए पुलिस प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। इस मौके पर एडीसी पार्थ गुप्ता, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, संयुक्त निदेशक एवं सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह, केडीबी सदस्य उपेन्द्र सिंघल, राजेन्द्र परासर, सौरव चौधरी, रविन्द्र सांगवान सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

मुख्य सचिव शिल्प व शिक्षामंत्री सरस मेले का आज करेंगे उदघाटन

अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के शिल्प मेले का उदघाटन 23 नवम्बर को सायं 4 बजे हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा करेंगी। इसके साथ-साथ हरियाणा के शिक्षामंत्री कंवरपाल गुर्जर सरस मेले का उदघाटन करेंगे। यह शिल्प व सरस मेला 23 नवम्बर से 10 दिसम्बर तक सुबह 10 बजे से लेकर रात्रि 9 बजे जारी रहेगा।

 

मीडिया सेंटर का उदघाटन आज

अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव में प्रशासन की तरफ से केडीबी कार्यालय में तमाम सुविधाओं से लैस मीडिया सेंटर की स्थापना की गई है। इस मीडिया सेंटर का उदघाटन 23 नवम्बर को होगा।

महोत्सव में पहुंचे शिल्पकार

अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव में देश-विदेश से शिल्पकार ब्रहमसरोवर के तट पर पहुंच चुके है। इस महोत्सव में प्रदेश के सभी राज्यों से सरस मेले में शिल्पकार पहुंचने शुरु हो गए है। इसी प्रकार एनजेडसीसी की तरफ से राष्टï्रीय एवं विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित शिल्पकारों को शिल्प मेले में बुलाया गया है।

शिल्प और क्राफ्ट मेले में 700 से ज्यादा लगेंगे स्टाल

अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव-2019 में 260 से ज्यादा देश विदेश से आने वाले शिल्पकारों के स्टाल लगेंगे। इन शिल्पकारों को एनजेडसीसी के द्वारा आमंत्रित किया गया है। डीआरडीए की तरफ से सरस मेले में 250 स्टाल लगाए जाएंगे, 50 स्टाल कुरुक्षेत्र के स्थानीय लोगों को अलाट किए गए है, रेवाड़ी के टेक्सटाईल और 10 स्टाल खादी ग्रामोद्योग मंडल को अलाट किए गए है। इसके अलावा 100 से ज्यादा स्टाल सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं को भी आवंटित किए गए है।

गुरदास मान रहेंगे महोत्सव के मुख्य आकर्षण का केन्द्र

एनजैडसीसी की तरफ से अंतर्राष्टï्रीय गीता महोत्सव के मुख्य सांस्कृतिक कार्यक्र्रमों के लिए 3 दिसम्बर 2019 के लिए प्रसिद्घ कलाकार गुरदास मान, 4 दिसम्बर को अमिषा पटेल, 5 दिसम्बर को दिलेर मेंंहदी, 6 दिसम्बर को कुमार विश्वास व गजेन्द्र सोलंकी, 7 दिसम्बर को अभिजीत भट्टïाचार्य और 8 दिसम्बर को सतिन्द्र सरताज का नाम फाईनल किया गया है। इन तमाम कार्यक्रमों का आयोजन तिरूपति बालाजी मन्दिर के पास मेला ग्राउंड में भव्य पंडाल में किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।