संयुक्त एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय गोलावण्ड पहुंचे कलेक्टर विद्यालय में छात्रों के पालको, षिक्षको और कर्मचारियों से किया गहन विचार-विमर्ष
November 12th, 2019 | Post by :- | 81 Views

विद्यार्थियों को कलेक्टर से मिली सीख: जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो प्रयास करते रहे: क्योंकि ‘मन के हारे हार है-मन के जीते जीत

छत्तीसगढ़ (कोंडागांव)@ नरेश जैन--‘जब तक आपको अपने लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हो जाती तब तक प्रयास करते रहे क्योंकि मन के हारे हार है मन के जीते जीत। सफलता और असफलता केवल आत्म विश्वास पर निर्भर करती है, अपने मन पर नियंत्रण और अनुशासन से बड़े से बड़ा लक्ष्य प्राप्त किया जा सकता है।‘‘ इस क्रम में विगत् दिनांक 11 नवम्बर को विकासखण्ड कोण्डागांव के ग्राम गोलावण्ड एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की संचालन समिति की बैठक में कलेक्टर एवं समिति अध्यक्ष श्री नीलकंठ टीकाम ने छात्रों को संबोधित करते हुए उक्ताशय के विचार प्रगट किए। अपने प्रेरणादायी उद्बोधन में उन्होंने कहा कि यहां अध्ययनरत् 240 छात्र-छात्राओं पर एक महती दायित्व है और वो है बस्तर के भविष्य के निर्माण की। यह विद्यालय मात्र पढ़ाई करने का संस्थान नहीं है बल्कि पढ़ाई के साथ-साथ एक छात्र के पूरे व्यक्तित्व के निर्माण की पाठशाला भी है, यहां बिताये गए पल छात्रो के पूरे जीवन की दिशा और दशा का निर्धारण करेगा। अतः छात्र अपनी जिम्मेदारी तय करते हुए अपने परिवार, गांव और जिले का नाम रोशन करे। उन्होंने आगे कहा कि हो सकता यहां पढ़ रहे 240 में से 40 होनहार बच्चों को अच्छी रैंक मिली हो परन्तु बचे हुए दो सौ छात्रों का भविष्य भी उज्जवल है। केवल इच्छाशक्ति और मनोबल से हर छात्र ऊंची से ऊंची रैंक पा सकता है। इस दौरान उन्होंने शिक्षकों से आग्रह किया कि वे छात्रों की पढ़ाई के साथ-साथ उनके व्यक्तित्व निर्माण पर भी ध्यान केन्द्रित करे। एक गुरु के लिए अपने छात्र को अपने लक्ष्य के साथ उच्च स्थान में विराजमान देखने से बड़ा पुरस्कार कुछ नहीं हो सकता। अपने उद्बोधन के समापन पर उन्होंने छात्रों को कहा कि वे अपने परिसर में बागवानी करके साक-सब्जियाँ उगाए, इससे उन्हें हरियाली के साथ-साथ ताजी-ताजी सब्जियाँ भी मिल सकेंगी।
इस मौके पर सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जी.एस.सोरी ने कलेक्टर को संस्था में विद्युत, पेयजल, कर्मचारियों की व्यवस्था, सामग्री पूर्ति, शिष्यवृत्ति, खेलकूद, विज्ञान मेला, सांस्कृतिक कार्यक्रम, पुस्तकालय, विज्ञान सामग्री इत्यादि विषयो के बारे में अवगत कराया। बैठक में संचालन समिति के अन्य सदस्य कार्यपालन अभियंता एच.एस.सलाम, सहा.जिला परियोजना अधिकारी के.एस.मरकाम, मनोनीत शिक्षाविद एन.के.नायक, सामाजिक कार्यकर्ता सी.आर.कोर्राम, बुधराम नेताम द्वारा भी छात्रों को संबोधित किया गया। इस क्रम में कलेक्टर ने उपस्थित छात्रो के पालको, शिक्षकोें तथा कार्यरत कर्मचारियों से चर्चा करते हुए समिति सदस्यों को निर्देश दिया कि हर दो हफ्ते उपरांत एकलव्य परिसर का निरीक्षण कर आवश्यक व्यवस्था करना सुनिश्चित करे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।