टीवीएसएन प्रसाद ने आज चण्डीगढ़ से वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश भर के उपायुक्तों से परिवार पहचान पत्र से सम्बन्धित किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी हासिल की
August 24th, 2019 | Post by :- | 138 Views

अम्बाला, अशोक शर्मा
वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद ने आज चण्डीगढ़ से वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश भर के उपायुक्तों से परिवार पहचान पत्र से सम्बन्धित किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी हासिल की वहीं इस दिशा में किए जाने वाले कार्यों बारे उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र मुख्यमंत्री की महत्वपूर्ण योजना है तथा इस योजना के सफलपूर्वक आयोजन के बाद अन्य जो योजनाओं का लाभ है वह भी योग्य लाभार्थियों को मिलना सुनिश्चित होगा।
अतिरिक्त मुख्य टीवीएसएन प्रसाद ने वीसी की अध्यक्षता करते हुए बताया कि परिवार पहचान पत्र के लिए अंतोदय सरल केन्द्र, अटल सेवा केन्द्र, सेवा केन्द्र तथा सीएचसी में जाकर आवेदन किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस आवेदन के लिए सम्बन्धित व्यक्ति से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए हम सबको मिलकर कार्य करने की बेहद आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र का डाटा पूर्णत: अपलोड होने के बाद सरकार की योजनाएं जैसे लॉंच होने वाली मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना सहित अन्य केन्द्र की जो योजनाएं है उसका लाभ दिलवाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए केन्द्रों में मौजूद ऑप्रेटर व अन्य सम्बन्धित कर्मचारी को इस डाटा को भरने की पूर्ण जानकारी होनी चाहिए ताकि परिवार पहचान पत्र की सम्पूर्ण प्रक्रिया पूरी की जा सके। उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने की प्रक्रिया एक निरंतर प्रक्रिया है। उन्होंने बताया कि इसके बाद एमपीएसवाई का प्रोफार्मा लाभार्थी भर सकते है जिसकी प्रक्रिया के बारे में भी उन्हें अवगत करवाया गया। इस मौके पर टीवीएसएन प्रसाद ने उपायुक्तों से इस दिशा में किए जाने वाले कार्यों सहित उनके सुझावों के बारे में भी जाना और इस कार्य को करने में यदि कोई समस्या आती है तो उसका भी निवारण करते हुए उन्हें आवश्यक जानकारी दी।
वीसी में मिले निर्देशों की अनुपालना में अतिरिक्त उपायुक्त कैप्टन शक्ति सिंह ने अतिरिक्त मुख्य सचिव को अवगत करवाया कि परिवार पहचान पत्र के तहत प्रारम्भिक तौर पर जिले के सरकारी कर्मचारियों का डाटा एकत्रित करने का काम किया गया है। उन्होंने बताया कि बीते दिनों बीपीएल कार्ड वितरण समारोह के दौरान जो नये बीपीएल लाभार्थी हैं उनसे जानकारी लेकर उनका परिवार पहचान पत्र फार्म भरवाने का काम किया गया है। आम जन को भी परिवार पहचान पत्र की महत्वता के बारे जागरूक कर इस कार्य को भी तीव्रता से किया जायेगा ताकि लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके। वीसी के उपरांत उन्होंने अधिकारियों की बैठक करते हुए बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य अंतोदय सरल केन्द्र, अटल सेवा केन्द्र, सेवा केन्द्र तथा सीएचसी में निशुल्क रहेगा। यदि कोई व्यक्ति उनसे परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए शुल्क लेता है तो इसकी जानकारी तुरंत डीआईओ को दें ताकि उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जा सके। उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र को बनाये जाने का मुख्य उद्देश्य यही है कि परिवार की सम्पूर्ण जानकारी एकत्रित करके परिवार की क्या-क्या आवश्यक जरूरतें है उसको ध्यान में रखकर सरकार योजनाओं को क्रियान्वित कर सके। उन्होंने जिला के चारों एसडीएम को कहा कि वे अपने उपमंडल में भी लोगों को परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए प्रेरित करें।
बैठक में एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग, एसडीएम डा0 किरण सिंह, एसडीएम मीनाक्षी दहिया, जिला सांख्यकी अधिकारी रोहनीत कुमार, जिला खजाना अधिकारी सुनीता गोस्वामी, डीआईओ विनय गुलाटी, डीएफएससी निशांत राठी सहित अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारीगण मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।