सड़क सुरक्षा जागरुकता अभियान के तहत सडक सुरक्षा का पाठ पढ़ाया |
November 10th, 2019 | Post by :- | 129 Views

हसनपुर पलवल/मुकेश वशिष्ट :- पलवल बस स्टैंड और आगरा चौक पर सड़क सुरक्षा जागरुकता अभियान के अन्तर्गत जिला पुलिस प्रशासन, प्रादेशिक परिवहन प्राधिकरण पलवल, रोड़ सैफ्टी आर्गेनाइजेशन और पलवल डोनर्स क्लब ज्योतिपुंज के सयुक्त तत्वावधान में सड़क सुरक्षा जागरुकता अभियान का आयोजन किया गया। वाहनों पर रिफ्लेक्टर टेप भी लगाकर जनता को जागरूक किया । कार्यक्रम का संयोजन ट्रैफिक पुलिस के एसएचओ विक्रम सिंह, रोड़ सैफ्टी आर्गेनाइजेशन के उपाध्यक्ष महेश तॅवर और पलवल डोनर्स क्लब ज्योतिपुंज के मुख्य संयोजक आर्यवीर लायन विकास मित्तल ने किया।

इस अवसर पर एस.डी.एम. जितेन्द सिंह कहा कि वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। भारत में मोबाइल फोन के इस्तेमाल के चलते हर रोज सड़क हादसों में पांच लोगों की मौत हो रही है। ट्रैफिक इंस्पेक्टर विक्रम सिंह ने कहा कि वाहन चलते समय नशीले पदार्थ और बीड़ी, सिगरेट का प्रयोग नहीं करें। साथ ही नाबालिग बच्चों को टू और फोर व्हीलर गाड़ी ना चलाने दें। चौराहों पर गाड़ी की स्पीड 20 से ऊपर ना रखें। विकास मित्तल ने कहा कि 75 फीसदी सड़क हादसे चालक की गलती से होते हैं।

इसलिए वाहन चलते रोंगटर्न, अवरस्पीड, रैश ड्राइविंग, सेल फोन ऑन रोड आदि पर कंट्रोल रखें। साथ सीट बेल्ट का उपयोग करें। क्लब की सह संयोजक अल्पना मित्तल ने कहा कि सड़क हादसों से बचने के लिए मार्ग पर चलते समय यातायात नियमों का सही से पालन करने पर विशेष ध्यान रखना बेहद जरूरी है। यातायात चिन्हों की जानकारी न होने के कारण हाईवे पर प्रतिदिन दर्जनों सड़क दुर्घटनाएं हो रही हैं। । कार्यक्रम के दौरान हेलमेट न पहनने वाले और सीट बैल्ट न पहनने वाले‌ चालको को फुल देकर जागरुक किया और साथ ही वाहनों पर रिफ्लेक्टर टेप भी लगाये गये।

कार्यक्रम के संचालन में महेश तवर पलवल उपाध्यक्ष, अल्पना मित्तल कोषाध्यक्ष,  विकास मित्तल, रणधीर सिंह चौहान सीनियर एजुकेटिव व जतिन कालड़ा, धर्म कुमार, राजीव गुप्ता, एमएल कथुरिया, राजीव डागर, रुद्र मित्तल आदि ने विशेष सहयोग दिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।