युवक की हत्या व शव खुर्द करने के मामले में मृतक की पत्नी तथा कथित प्रेमी गिरफ्तार
November 5th, 2019 | Post by :- | 204 Views

कैथल( विशाल चौधरी) रविवार व सोमवार की मध्य रात्री युवक की हत्या कर शव को खुर्द होने के लिए काकौत-पिलनी क्षेत्र में ड्रेन के पास फैंकने के मामले में थाना प्रबंधक तितरम द्वारा 24 घंटे के मध्य मामला सुलझाते हुए मृतक की पत्नी व उसके कथित प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया गया। महिला के कब्जे से एक मोबाईल फोन बरामद कर लिया गया, जबकि दूसरे आरोपी के कब्जे से हत्या की वारदात में प्रयुक्त किए गये कट्टर व गाडी की बरामदगी के लिए आरोपी का 6 नवम्बर को न्यायालय से पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा। मंगलवार की शाम कार्यालय पुलिस अधीक्षक में आयोजित प्रैस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक विरेंद्र विज ने जानकारी देते हुए बताया कि पिलनी निवासी संजय के ब्यान पर दर्ज मामले अनुसार उसका भाई कृष्ण 3 नवम्बर की शाम को घर से यह कहकर गया था, कि थोडी देर बाद वापिस आ जांउगा, जो रात भर वापिस नहीं आया। 4 नवम्बर की सुबह तलाशी के दौरान काकौत-पिलनी सीमा पर डे्रन व सडक के मध्य कच्चे रास्ते की झाडियों से उसका शव बरामद हुआ, जिसकी गर्दन की दाई साईड पर कट का निशान था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामले की जांच डीएसपी विरेंद्र सांगवान की अगुवाई में थाना प्रबंधक तितरम इंस्पेक्टर मुकेश बैनिवाल द्वारा करते हुए उपरोक्त मामले में लगभग 20 वर्षीय आरोपी सुभाष उर्फ राहुल पुत्र रामनिवास निवासी सेगा तथा गांव पिलनी निवासी मृतक की पत्नी पिंकी को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी सुभाष उर्फ राहुल सेगा ने कबूला कि गत वर्ष नवम्बर 2018 दौरान उसके बडे भाई को लडका हुआ था, जिसकी पार्टी देने के दौरान उसकी पिलनी निवासी कृष्ण से मुलाकात हुई थी। उसने बताया कि कृष्ण के शराब पीने का आदी होनें कारण किसी ना किसी बहाने से उसका उनके घर आना जाना शुरु हो गया, जिसके दौरान उसकी पत्नी के साथ उसके नाजायज संबंध स्थापित हो गए। पिछले कुछ दिनों से कृष्ण को उनके संबधों के बारे में शक हो गया था, जिसके चलते वह अपनी पत्नी से इस बाबत मारपीट करने लगा, तो वह अपने कथित प्रेमी को इस बारे सुचना दी, तथा दोनों उसको ठिकाने लगाने का षडयंत्र रचने लगे। जिसके तहत 3 नवम्बर की शाम को आरोपी सुभाष उर्फ राहुल उसे पिलनी से अल्टो गाडी में बैठाकर अपने साथ ले गया तथा दोनों ने काकौत में  शराब पी, जिसके दौरान सुभाष योजना के तहत कृष्ण को ज्यादा शराब पिलाता रहा। नशा होने उपरांत जब कृष्ण ने अवैध संबधों के बारे में बातचीत करनी चाही तो आरोपी सुभाष द्वारा  कट्टर (करीब 10 रुपए मूल्य का चाकुनाम तेजधार) से वार करके उसे घायल कर दिया, जिसके गिरने उपरांत आरोपी द्वारा उसका गला दबाकर हत्या करने उपरांत शव को झाडियों में फैंककर मौके से फरार हो गया तथा थोडी देर बाद कार्ययोजना सफल होने बारे अपनी सहयोगी महिला को फोन के द्वारा सुचित कर दिया। आरोपित महिला के कब्जे से मोबाईल फोन बरामद कर लिया गया, जबकि आरोपी द्वारा वारदात में प्रयुक्त कट्टर व गाडी की बरामदगी के लिए आरोपी सुभाष का 6 नवम्बर को न्यायालय से पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।