यौन अपराधों के मुकद्दमों के तीव्रता से निपटान के लिये चार डैडिकेटिड फास्ट ट्रैक कोर्ट 12 विशेष फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित की जाएंगी : राज्यपाल
November 5th, 2019 | Post by :- | 67 Views

पंचकूला, ( महिन्द्र पाल सिंहमार ) ।    हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से महिलाओं के विरूद्ध अपराधों और बच्चों के विरूद्ध यौन अपराधों के मुकद्दमों के तीव्रता से निपटान के लिये चार डैडिकेटिड फास्ट ट्रैक कोर्ट 12 विशेष फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित की जाएंगी। इसके अतिरिक्त, राज्य सरकार यौन एवं लिंग आधारित हिंसा से निपटने के लिये शीघ्र ही विस्तृत कार्य योजना बनाएगी।

राज्यपाल आज यहां आयोजित 14वीं हरियाणा विधान सभा के दूसरे दिन नव-निर्वाचित विधायकों को सम्बोधित कर रहे थे।
श्री आर्य ने कहा कि राज्य सरकार लैंगिक समानता और महिलाओं व लड़कियों का सशक्तिकरण सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ कार्यक्रम को क्रियान्वित करने के राज्य के प्रयासों की भारत सरकार द्वारा भूरि-भूरि प्रशंसा की गई है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा राज्य सरकार की प्राथमिकता रहेगी और इसके लिए विद्यालयों में मुफ्त आत्मरक्षा प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। महिला पुलिसकर्मियों की संख्या में भी वृद्धि की जाएगी। महिलाओं के विरूद्ध अपराध को रोकने के लिए संवेदनशील सार्वजनिक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण पर आगे भी बल देती रहेगी ताकि वे हिंसा मुक्त और भेदभाव रहित वातावरण में विकास प्रक्रिया में समान योगदान दे सकें। उन्होंने कहा कि सरकार राज्य को एनीमिया मुक्त बनाने पर बल देगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।