झज्जर-रेवाड़ी हाइवे पर गांव सिंकदरपुर में बनेगा अंडरपास : औम प्रकाश धनखड़ 
November 4th, 2019 | Post by :- | 156 Views
बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)
–केंद्रीय लोकनिर्माण एवं परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी से मिलकर पूर्व कृषि मंत्री धनखड़ ने कराया अंडरपास मंजूर
— ग्रामीणों से चुनाव के दौरान किया हुआ वादा किया पूरा
झज्जर, 4 नवंबर। प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ ने विधान सभा चुनाव के दौरान सिंकदरपुर व कोट के ग्रामीणों से हाइवे पर अंडरपास बनवाने का किया हुआ वादा सोमवार को पूरा कर दिया । पूर्व कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय लोकनिर्माण एवं परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी से मिले और रोहतक रेवाड़ी नैशनल हाइवे 71 स्थित सिंकदरपुर गांव की क्रासिंग पर अंडरपास बनवाने की मांग रखी। नीतिन गडकरी ने तुंरत मंाग को मजंूर करते हुए नैशनल हाईवे प्राधिकरण को आगामी कार्यवाही के लिए भेज दिया।
  विधान सभा चुनाव के दौरान सिंकदरपुर व कोट के ग्रामीणों ने पूर्व कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ को नैशनल हाईवे पर अंडरपास बनवाने की पुरजोर मांग की थी। सिंकदरपुर की पंचायत ने नैशनल हाईवे अंडरपास बनवाने के लिए प्रस्ताव भी मंजूर करते हुए औमप्रकाश धनखड़ को दिया था। ग्रामीणों ने मांग थी कि  गांव सिंकदरपुर और कोट से नैशनल हाईवे 71 पर जाते समय काफी हादसे हो चुके हैं और इन हादसों में 16 लोगों की जान जा चुकी है।  हाइवे पर अंडरपास बनने से सिकंदरपुर, कोट सहित अन्य राहगीरों को भी सुविधा मिलेगी और हादसों से छुटकारा मिलेगा। पूर्व कृषि मंत्री ने उसी समय वादा किया था कि चुनाव समाप्त होते ही सबसे पहले यहीं काम करूंगा।
   पूर्व कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ सोमवार को अपने मित्र और केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी के कार्यालय में सिंकदरपुर पंचायत द्वारा पास किया गया प्रस्ताव और अपनी तरफ से मांग पत्र सौंपते हुए अंडरपास बनवाने की बात रखी। केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी ने तुरंत नैशनल हाई वे 71 पर सिंकदरपुर ग्रामीणों की मांग के अनुसार अंडरपास मंजूर करते हुए नैशनल हाईवे प्राधिकरण को आगामी कार्यवाही करने के निर्देश जारी कर दिए।
पूर्व कृषि मंत्री धनखड़ ने कहा कि सिंकदरपुर में अंडरपास बनवाने का वादा किया था। मैंने अपना वादा पूरा किया है। मेरा प्रयास यहीं है कि बादली हलकावासियों को कोई भी परेशानी न हो और हलके में विकास की रफ्तार पहले की तरह जारी रहे। बादली हलके का जनसेवक हूं और मैं अपना दायित्व और दृढ़ता के साथ निभाता रहूंगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।