कांग्रेस से बागी होकर चुनाव में उतरे निर्मल सिंह और उनकी बेटी चित्रा सरवारा ने आज नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया
November 4th, 2019 | Post by :- | 128 Views

अम्बाला में कांग्रेस से बागी होकर चुनाव में उतरे निर्मल सिंह और उनकी बेटी चित्रा सरवारा ने आज नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है,

दोनों नेता फरवरी में अपने संरथकों की सलाह के बाद पार्टी के नाम की घोषणा करेगे। उत्तरी हरियाणा से आये सैकड़ों समर्थकों से गदगद नेताओं ने किया पार्टी बनाने का ऐलान। निर्मल सिंह ने कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा पर लगाया धोखा देने का आरोप।निर्मल सिंह ने सभी समर्थकों को साथ लेकर चलने की खाई कसम।

कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनाव में टिकट न देने से नाराज चौधरी निर्मल सिंह और उनकी बेटी चित्रा सरवारा ने अम्बाला केंट ओर अम्बाला शहर से निर्दलीय चुनाव में मिले भारी जनसमर्थन से गदगद होकर उत्तरी हरियाणा से अपने सैकड़ों संरथकों की एक बैठक अपने निवास पर बुलाई।

जिसमे आपार भीड़ से गदगद होकर निर्मल सिंह और उनकी बेटी चित्रा सरवारा ने कहा कि वे फरवरी में नई पार्टी के नाम का ऐलान करेंगे । निर्मल सिंह ने इस मौके पर विधानसभा चुनाव में धोखा देने पर कांग्रेस पार्टी अध्यक्षा कुमारी सैलजा को जम कर कोसा। निर्मल ने कहा कि फरवरी में वे एक विशाल जन सभा करेंगे जिसमे पार्टी नाम का विधिवत ऐलान किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि वे किसी के साथ भेदभाव नही करेगे ओर सब की सहमति से झंडे ओर डंडे की भी घोषणा की जाएगी। निर्मल सिंह ने कहा कि वे पहले भी उतरी हरियाणा से होने वाले भेदभाव का मुद्दा उठाते रहे हैं अब वे उतरी हरियाणा के लोगों को न्याय दिला कर रहेगे।

मीडिया से बातचीत करते हुए निर्मल सिंह ने कहा कि उनके समर्थकों ने एक मोर्चा बनाने का ऐलान किया है जिसके झंडे और डंडे के बारे में निश्चित किया जाएगा और इसी को लेकर फरवरी में अंबाला शहर के अंदर एक विशाल जनसभा बुलाएंगे जिसमें नई पार्टी के नाम और झंडे के निशान का भी फैसला लिया जाएगा।

निर्मल ने कहा कि अगला विधानसभा का चुनाव में अपनी पार्टी के झंडे के नीचे ही लड़ेंगे। निर्मल ने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा उनके बड़े भाई हैं और वे उनका आदर करते हैं लेकिन हमारी राजनीति उनसे अलग ही रहेगी। वही राष्ट्रीय महिला कांग्रेस की पूर्व महासचिव रही चित्रा सरवारा ने कहा कि उनका ऐलान तो तभी हो चुका था जब वे निर्दलीय रूप से चुनाव लड़े थे और भारी जनसमर्थन भी उन्हें मिला है।

उन्होंने कहा कि अंबाला कैंट व अंबाला शहर के दो हलकों से उन्हें एक लाख लोगों का जन समर्थन मिला है और आज एक अलग पार्टी बनाने का फैसला भी इन्हीं लोगों का ऐलान है जिसकी वह कदर करते हैं उन्होंने कहा कि इसे हम बहुत बड़ी कामयाबी समझते हैं कि केवल दो हलकों में ही उन्हें एक लाख वोट मिला है। उन्होंने कहा कि उनकी यही बड़ी कामयाबी मिलेगी कि वे आने वाले समय में इन लोगों को न्याय दिला सकें।

चित्रा ने कहा कि चुनाव में जिन अलग-अलग पार्टियों ने अमेजन समर्थन दिया है और आगे भी किसी मंच पर यदि वे हमारे साथ इकट्ठे हो सकेंगे तो हम उन्हें अपने साथ रखेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।