हजारों लोगों ने पानी में खड़े हो कर सूर्य देवता की अराधना  
November 4th, 2019 | Post by :- | 204 Views
बद्दी, 4 नवंबर।             उगते सूर्य को अघ्र्य देने के साथ ही पूर्वांचल के लोगों का छठ पर्व हर्षोल्लास के साथ संपन्न हो गया। रविवार को उगते सूर्य को अघ्र्य देने के बाद पिछले 32 घंटे से चल रहा उपवास भी सपन्न हो गया। सुबह तड़के बीबीएन के सरसा व चिकनी नदी में छठी माता के जयकारों से पूरा बीबीएन भक्तिमय हो उठा। सूर्य को अघ्र्य देने के लिए लोगों में इतनी उत्सुकता व श्रद्धा थी कि सूर्य उगने से दो घंटे पहले ही लोग पानी में खड़े हो गए। ठंड के मौसम में जहां लोग सुबह के समय सर्दी से कांप रहे है थे वहीं ये लोग पानी में खड़े हो कर सूर्य देवता की आराधना कर रहे थे। शीतलपुर में सरसा नदी व सनसिटी के समीप बालद नदी में कुछ लोगों ने  भंडारे लगाए हुए थे। जहां पर हजारों लोगों ने सुबह सुबह गर्म चाय व पकोड़ों का आनंद लिया। इस  मौके पर जय हो सूरज बाबा की, दोहाई दीना नाथ आपन अध्र्य स्वीकार करो से  सभी लोगों ने प्रार्थना व आराधना की।
बद्दी के शीतलपुर, सनसिटी, दासो माजरा, किशनपुरा, मानपुरा, खरूणी, मलपुर, खेड़ा, किरपालपुर, नालागढ़, भाटियां, ढांग निहली, सैणी माजरा, राजपुरा आदि स्थानों में पूर्वांचल के लोगों ने सरसा व चिकनी नदी के किनारे पानी में आस्था की डूबकी लगाई और सूर्य को अघ्र्य दिया। बद्दी निवासी कृष्ण कौशल, रमन कौशल, केवल ठाकुर, भारवी कौशल ने बताया कि सुबह जब सब लोग सोए हुए थे। पूर्वाचंल के बद्दी में रह रहे लोग पूजा का सामान लेकर नदी के किनारे भास्कर देवता की स्तुति में लगे हुए थे। लोग पानी में खड़े हो कर सूर्य देवता की आराधना कर रहे थे। वहीं इस पर्व को मनमोहक व सुंदर बनाने के  लिए रंग बिरंगी आतिशबाजी का इस्तेमाल किया गया। जिससे सरसा नदी का दृश्य देखते ही बनता था। बद्दी निवासी संजीव कौशल व साथियों ने लोगों ने चाय व पकोड़ों की लंगर लगाया हुआ था। जिसका वहां पर उपस्थित सभी लोगों ने आंनद लिया।
वहीं दूसरी ओर से बद्दी से सनसिटी के समीप बालद नदी के किनारे बने घाट पर करीब चार हजार लोगों ने  एक साथ सूर्य को अघ्र्य दिया। जन कल्याण समिति की ओर से यहां पर श्रद्धालुओं के लिए लंगर की व्यवस्था की गई। भोजपुरी कलाकार छोटू बिहारी, तनु प्रियंका ने भोजपुरी व हिंदी गीत प्रस्तुत कर लोगों को रात भर नचाया। विजय भाई ने शंभू बिहारी द्वारा तिहारी आए है भजन पर दर्शक झूम उठे। इसके अलावा  वीरेंद्र वीर ने केईले बनी पहला बरतिया व रंजन दूबे ने माई गुणगावत जेकर बीते बीते किस्तम वाला होले पेश कर वाहवाही लूटी। इस मौके पर पंचायती राज मंत्री विरेंद्र कंवर, विधायक परमजीत सिंह प मी, गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरुषोतम गुलेरिया, कालका की पूर्व विधायक लतिका शर्मा, विधायक प्रदीप चौधरी, दून के पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी, एसडीएम प्रशांत देश्टा, आरटीओ रविंद्र कुमार शर्मा समेत गणमान्य लोग उपस्थित हुए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।