वनकाटूओं ने दस खैर के पेड़ो पर चलाई कुल्हाड़ी
November 4th, 2019 | Post by :- | 321 Views

इंदौरा (मुकेश सरमाल)

एक तरफ तो सरकार पौधारोपण को बढ़ावा देने के लिए जागरूक अभियानों व अन्य साधनों पर करोड़ों रुपए खर्च कर वन संपदा की सुरक्षा पर बल दे रही है तो दूसरी ओर वन मंडल इंदौरा के अंतर्गत वन माफिया के हौंसले इतने बुलंद हैं कि वे बेखौफ होकर वन संपदा पर हाथ साफ कर रहे हैं। इनके सामने वन विभाग की रक्षा प्रणाली भी बौनी साबित होती नजर आ रही है।

दस पेड़ो पर चली कुल्हाडी^

  1. जानकारी के अनुसार घंडरां में वन माफिया ने एक के बाद एक सरकारी भूमि से 10 खैर के पेड़ों की तस्करी को अंजाम दिया। यहां वन माफिया ने विद्युत चालित आरे का प्रयोग कर वन संपदा को नुक्सान पहुंचाया है। हालांकि विभाग ने इस संदर्भ में पुलिस थाना इंदौरा में अज्ञात लोगों के विरुद्ध शिकायत पत्र दिया है। इससे पहले भी घंडरां में कई पेड़ों पर वन माफिया हाथ साफ कर चुका है।उधर, मंड क्षेत्र में वन विभाग की भूमि से शीशम के डेढ़ दर्जन से अधिक पेड़ों पर वन माफिया हाथ साफ कर गए हैं लेकिन विभाग ने इस बारे न तो कोई कार्रवाई स्वयं की और न ही इस बाबत में कोई मामला दर्ज करवाया है, जिससे विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग रहे हैं।वन मंडल अधिकारी वासु कौशल ने बताया कि इस बारे रेंजअधिकारी को स्वयं मौके का निरीक्षण करने के निर्देश दिए जाएंगे।

विभाग का क्या कहना इस पर

भविष्य में ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगे, इसके लिए विभागीय गश्त को और तेज किया जाएगा। जनता से भी अपील है कि वन संपदा को बचाने के लिए विभाग को समय पर सूचना देकर सहयोग करे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।