इन्दौरा भाजपा मंडल अध्य्क्ष के चुनाब को लेकर तानाशाही के चलते भाजपा कार्यकर्ताओं ने लगाए चुनाव प्रभारी मुर्दाबाद, राजेश ठाकुर मुर्दाबाद नारे
October 26th, 2019 | Post by :- | 128 Views
गगन ललगोत्रा(व्यूरो कांगड़ा)
इन्दौरा भाजपा मंडल अध्य्क्ष के चुनाब को लेकर तानाशाही के चलते भाजपा कार्यकर्ताओं ने लगाए चुनाव प्रभारी मुर्दाबाद, राजेश ठाकुर मुर्दाबाद नारे
कार्यकर्ताओं ने जताया रोष , कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर मिलीभगत से बना दिया मंडल अध्य्क्ष
चुनाब प्रभारी ने सभकारी गुटबाजी की बात
आज भाजपा मण्डल  इंदौरा का संगठनात्मक चुनाव सूरजपुर स्थित मुमताज़ पैलेस मे सम्पन्न हुआ l जिसमे सर्वसम्मति से बलवान सिंह को मंडलाध्यक्ष चुना गया l यह संगठनात्मक चुनाव प्रभारी तेज चंद टंडन की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुआ l
एक तरफ भाजपा मण्डल ने सर्वसम्मति से अपना मण्डल अध्यक्ष चुना वहीं कुछ कार्यकर्ताओं ने इस फ़ैसले पर असहमति जताते हुए  अपना विरोध जताया कि कार्यकर्ताओं की बिना सहमति से यह तुग़लकी फ़रमान सुना दिया है  l उन्होंने चुनाव प्रभारी और विधायक गगरेट पर राजेश ठाकुर पर गंभीर आरोप लगाते हुए एक आवाज मे कहा की गगरेट के  विधायक राजेश ठाकुर ने मंडलाध्यक्ष के चुनाव मे हस्तक्षेप किया और जमीनी कारकर्ताओं को नजरअंदाज करते हुए l अपनी कुर्सी की धौंस दिखाते हुए अपना  तुगलकी फरमान सुनाते हुए बलवान सिंह को सर्वसम्मति से  मंडलाध्यक्ष चुना l
वहीं इस सारी चुनावी प्रक्रिया के उपरान्त निराश कार्यकर्ताओं द्वारा  राजेश ठाकुर मुर्दाबाद, तानाशाही नहीं चलेगी, चुनाव प्रभारी मुर्दाबाद के नारे लगाए गए l
इस  चुनाव से हताश कारकर्ताओं ने चुनाव प्रभारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मण्डलाअध्यक्ष की कुर्सी की दौड़ मे और भी कई काबिल कार्यकर्ता इस कतार मे थे परन्तु चुनाव प्रभारी ने औहदेदारों के दबाब के कारण किसी भी अन्य कार्यकर्ता को आवेदन करने का अवसर ही नहीं दिया l
वहीं इस संदर्भ में जब संगठनात्मक चुनाव प्रभारी तेज चंद टंडन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ऐसी कोई बात हमारे सामने नही हुई। वहाँ पर मौजूद दूसरे ग्रूप के लोगों ने विरोध जताया होगा।जिसका हमें पता नही है। हमने सर्वसम्मति से ही मंडलाध्यक्ष चुना है।
https://youtu.be/D-L5fCgpaDg
इस संबंध में जब  इन्दौरा की बिधायक रीता धीमान का पक्ष लेना चाहा तो उन्होंने व्यस्तता का बहाना बनाते हुए बात करने की बजाए फोन की काट दिया

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।