भील समग्र विकास परिषद तथा माय मिशन, निशुल्क प्रतियोगिता कोचिंग संस्थान,उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में पांच दिवसीय विशेष कैंप
October 25th, 2019 | Post by :- | 92 Views

बांसवाडा (अरूण जोशी)
कुशलगढ़ स्थानीय भील समग्र विकास परिषद तथा माय मिशन, निशुल्क प्रतियोगिता कोचिंग संस्थान,उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में पांच दिवसीय विशेष कैंप का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें वर्तमान में 400 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं जिन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु निशुल्क कोचिंग दी जा रही है सेमिनार में उदयपुर के माय मिशन निशुल्क प्रतियोगी संस्थान के संस्थापक संजय लुणावत, प्रधानाचार्य द्वारा भूगोल विषय के अंतर्गत विश्व,भारत एवं राजस्थान के मानचित्रो का अध्ययन करवाया गया,साथ ही राजस्थान के एकीकरण को शार्ट ट्रिक द्वारा समझाया गया.इस विशेष कैंप में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के सबसे जटिल माने जाने वाले अध्यायो को सरल तरीके से शार्ट ट्रिक्स से हल कराया जाएगा,माय मिशन-उदयपुर से प्रेरित होकर भील समग्र विकास परिषद के तहत इस निशुल्क कोचिंग के संचालक विजयसिंह खड़िया एवं शिक्षक सुखराम वसुनिया द्वारा सुदूर ग्रामीण जनजाति अंचल कुशलगढ़ में यह अनूठी पहल की जा रही है,इस समूचे क्षेत्र के 30 किलोमीटर के परिक्षेत्र से लगभग 400 विद्यार्थी आ रहे हैं, दीपावली के त्यौहार एवं फसल काटने की सीजन होने के बावजूद विद्यार्थियों में इस कैंप को लेकर जबरदस्त उत्साह और ज्ञानार्जन की ललक का माहौल है,इस कोचिंग में तीन आईएएस प्रशिक्षुओ का दल भी दौरा कर विद्यार्थियों को प्रेरित कर चुका है तथा इस अभिनव पहल की सराहना कर चुका है,वहीं स्थानीय आर.ए.एस.अधिकारी तथा वर्तमान में डूंगरपुर जिला परिषद के सी.ई.ओ.श्री दीपेंद्र सिंह राठौड़ भी अपना उद्बोधन दे चुके हैं,कर अधिकारी रतनसिहं मईडा, प्रधानाचार्य श्रीमती रमीला डिंडोर प्रधानाचार्या श्रीमती रमिला डिंडोर सहित कई शिक्षाविद् भी नियमित रूप से शिक्षण कार्य करा रहे हैं,विविध भामाशाहों का निरंतर सहयोग भी विद्यार्थियों हेतु सुविधा जुटाने के लिए मिल रहा है,माय मिशन-उदयपुर के संस्थापक संजय लुणावत द्वारा अपने विद्यार्थियों एवं साथियों के माध्यम से विभिन्न स्थानों पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु निःशुल्क कोचिंग स्थापित करने के प्रयास मेवाड़ और वागड़ अंचल में किए जा रहे हैं,संचालक विजयसिंह खड़िया का कहना है कि हर उपखंड स्तर पर ऐसी पहल की जाए तो विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में सेवा की राहत मिलेगी,

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।