चुनाव डियूटी के फ़ोर्स रवाना, पुलिस अधीक्षक पलवल ने कर्मचारियो व अधिकारियो को दिये आवश्यक दिशा निर्देश।
October 20th, 2019 | Post by :- | 139 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-   पलवल, होडल व हथीन डिविजन मे चुनाव डियूटी के लिये फोर्स रवाना की गई। फोर्स को डियूटी पर भेजने से पूर्व पुलिस अधीक्षक पलवल के द्वारा सभी उप-मण्डलो मे जाकर पुलिस र्फोस को सम्बोधित करके दिशा निर्देश दियें गयें।

मतदान के दौरान मतदान केन्द्र के 100 मीटर के दायरे मे मतदाता के ईलावा कोई प्रवेश नही करेंगा। वाहनो की सघन्न जांच पडताल शुरू कर दी गई है। जिला पलवल मे मतदान के दौरान 9 नाके प्रभावी रहेंगें।

चुनाव के दौरान जिला पलवल मे बूथ डियूटी पर 722 पुलिस कर्मचारी, 689 एस0पी0ओ0 व होम गार्ड तैनात रहेंगे। इसके अतिरिक्त विधान सभी पलवल मे 128 कर्मचारी पैरामिलटरी फोर्स के संवेदनशील बूथों पर, नाका डियूटी पर पैरामिलटरी फोर्स के 63 कर्मचारी, पैटरोलिंग के लिये 15 कर्मचारी, पृथला विधानसभा के पलवल जिला के ईलाका मे पडने वाले गांवों मे, तथा पलवल के तीनो विधान सभा क्षेंत्रों मे एक-1 पुलिस अधीक्षक जिसके साथ 13 कर्मचारी, चार-चार निरीक्षक, जिनके साथ 10-10 पुलिस कर्मचारी, ई0वी0एम0 स्ट्रोंग रूम के लिये चार पुलिस गार्द, इनके अतिरिक्त सभी ए0एच0ओ0 10-10 पुलिस कर्मचारी व चैकी इन्चार्ज के साथ 4-4 पुलिस कर्मचारी भी अपने-अपने ईलाका मे गश्त के लिये लगायें गयें है। उपायुक्त महोदय पलवल के द्वारा 39 जोनल मजिस्ट्रेट नियुक्त किये गये है। जिनके साथ 4-4 पुलस कर्मचारी नियुक्त किये गये है। 64 सैक्टर मजिस्टेट नियुक्त किये गये है। जिनके साथ एक-एक पुलिस कर्मचारी डियूटी पर लगाया गया है।

पलवल व हथीन विधानभा क्षेंत्र के लिये अलग से कमान्डों स्वैट टीम नियुक्त की गई है। जिन्होने अपनी चैकिंग व गश्त शुरू कर दी है। पुलिस अधीक्षक पलवल के द्वारा सख्त निर्देश दियें गयें है कि किसी भी अप्रिय घटना को किसी भी सूरत मे बरदास्त नही किया जावेंगा। संदिग्ध अवस्था/हालत मे पायें जानें पर पुलिस द्वारा गिरफतार कर जेल भेज दिया जावेंगा। सभी अधिकारियो को चुनाव निष्पक्ष व शांतिपूवर्क ढंग से कराने के आदेश दिये गये। बाहर से आने-जाने वाले वाहनो की सख्ती से चैकिंग की जा रही है। संदिग्ध हालत मे घुमते पायें जाने वाले वाहनो व व्यक्तिीयो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जावेंगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।