बैलेट पेपर से चुनाव कराकर कांग्रेस जनता के अधिकार को छीन रही और पार्षदो की खरीद को बढ़ावा दे रही है- पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह
October 20th, 2019 | Post by :- | 71 Views

चित्रकोट चुनाव प्रचार के समाप्ति के बाद शनिवार को छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह कोण्डागांव पहुंचे। यहां पहुंच कर वे स्थानीय जिला भाजपा कार्यालय अटल सदन में कार्याकर्ताओं की बैठक लिए। जहां आगामी निकाय व पंचायत चुनाव के लिए कमर कस कर तैयार रहने के लिए कहे। इसी कड़ी में वे कोण्डागांव के केशकाल में भी पहुंचे।

कोण्डागांव के अटल सदन में कार्यकर्ताओं की बैठक लेते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि, संगठन को मजबूती देने के लिए बूथ स्तर से लेकर जिला स्तर तक कार्य करना है। उन्होंने आगे कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चनाए जा रहे योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाने है। साथ ही उन्होंने आगामी चुनाव में कमर कसने की भी बात कार्यकर्ताओं से कही है। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री समेत पूर्व मंत्री लता उसेण्डी व स्थानीय पदाधिकारी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

कोण्डागांव के बाद डॉ. रमन सिंह केशकाल पहुंचे। केशकाल में वे नगर पंचायत अध्यक्ष आकाश मेहता के घर पहुंचे। जहां स्थानीय कार्यकर्ताओं से मिलकर आगामी चुनाव के बारे में चर्चा की गई। इस दौरान पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा कि बैलट पेपर से चुनाव कराकर कांग्रेस जनता के अधिकार को छीन रही है और पार्षदों की खरीद-फरोख्त को बढ़ावा देना चाहती है।
दंतेवाड़ा विधानसभा चुनाव में पराजित होने के बाद भाजपा ने पूरी शक्ति चित्रकोट चुनाव जीतने के लिए लगा दी है। चुनाव प्रचार समाप्ति के बाद रायपुर वापस लौट रहे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह केशकाल नगर पंचायत अध्यक्ष आकाश मेहता के घर पहुंचे थे। इस दौरान डॉ. सिंह ने कहा कि चित्रकोट चुनाव प्रचार के दौरान युवाओं और कार्यकर्ताओं के जोश देख भाजपा की जीत निश्चित है और नगर पालिका चुनाव को लेकर डॉ रमन सिंह ने कांग्रेस सरकार पर तीखा वार करते हुए कहा कि कांग्रेस अपनी हार को देख बैलेट पेपर से चुनाव कराकर आम जनता के अधिकार को छीन रही है और पार्षदों के खरीद-फरोख्त को बढ़ावा दे रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।