सुरक्षा की दृष्टिï से व्यवस्था रहेगी चाकचौंबन्ध:-जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा। 
October 20th, 2019 | Post by :- | 60 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) लोकतंत्र के सबसे बड़े उत्सव विधानसभा चुनाव के लिए सभी सम्बधिंत पोलिंग पार्टियां अपने-अपने मतदान केन्द्रों की ओर रवाना हो चूकी हैं। जिला प्रशासन निष्पक्ष और पारदर्शिता के साथ कल 21 अक्तूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पूरी तरह चौंकस हैं। सुरक्षा की दृष्टिï से भी चांकचौबंन्ध प्रबन्ध किए गए हैं। इस विषय को लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि विधानसभा आम चुनाव 2019 के लिए 21 अक्तूबर को होने वाले मतदान के लिए पोलिंग पार्टियों को उनकी जिम्मेवारी का अहसास करवाते हुए बूथों के लिए रवाना कर दिया गया है। इस दौरान पोलिंग पार्टियों को ईवीएम, वीवी पैट सहित अन्य प्रचार सामग्री वितरित की गई। पोलिंग पार्टियों को मतदान प्रक्रिया में बरती जाने वाली सावधानियों तथा आयोग के निर्देशों के बारे में अवगत करवाते हुए चुनाव डयूटी को पूरी निष्ठा व ईमानदारी से निभाने के भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने बताया कि आम विधानसभा चुनाव के तहत अम्बाला जिला में 842851 मतदाता हैं, इसके अलावा दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 5632 हैं व सर्विस वोटरों की संख्या 4194 हैं। चुनाव के दृष्टिगत जिले में 44 डयूटी मैजिस्ट्रेट व 66 सैक्टर ऑफिसर लगाए गए हैं। चुनाव के मद्देनजर प्रशासन की ओर से सभी पुख्ता प्रबन्ध किए गए हैं, ताकि विधानसभा चुनाव सफलतापूर्वक सम्पन्न करवाया जा सके। 
जिला निर्वाचन अधिकारी ने सैक्टर ऑफिसर व डयूटी मैजिस्ट्रेट की टीम को निर्देश दिये हैं कि वे 21 अक्तूबर को मतदान वाले दिन सुबह से ही फिल्ड में सचेत रहें ताकि मतदान प्रक्रिया का कार्य सुचारू रूप से चलता रहे। मतदान वाले दिन मॉक पोल की प्रक्रिया निर्धारित समय से सुनिश्चित हो जानी चाहिए इस कार्य में किसी प्रकार की देरी नहीं करनी है। मॉक पोल के उपरान्त क्लियर बटन को दबाना सुनिश्चि करें व ईवीएम मशीन से मोक पोल के दौरान जो वोटें प्रयोग की गई हैं उसे क्लियर करके पूरी सर्तकता के साथ मतदान प्रक्रिया शुरू करें। इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। 
उन्होंनें बताया कि 21 अक्तूबर को मतदान सुबह 7 बजे शुरू हो जायेगा जोकि सांय 6 बजे तक जारी रहेगा। जिला प्रशासन द्वारा विधानसभा चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से करवाने के लिए मतदाताओं को बेहतरीन सुविधाएं दी हैं। मतदाताओं के पास मतदान के समय पासपोर्ट, आधार कार्ड, ड्राईविंग लाईसेंंस, केन्द्र व राज्य सरकार का सर्विस आईडी कार्ड, पेन कार्ड, बैंक और डाक घर द्वारा जारी की गई पास बुक, मनरेगा का जोब कार्ड, स्वास्थ्य बीमा कार्ड, पेंशन डाक्यूमेन्ट व चुनाव मशीनरी द्वारा जारी की गई प्रमाणित वोटर स्लीप इत्यादि में से कम से कम एक होना जरूरी हैं। कोई भी मतदाता इनमें से अपना पहचान कागजात दिखाकर आसानी से मतदान कर सकता हैं। इसके अलावा मतदान केन्द्र पर मतदाताओ की सुविधा के लिए बीएलओ भी लगाये गये हैं जोकि मतदाताओं की मत संबधी कोई भी जानकारी हो उन्हें उपलब्ध करवायेंगे। साथ ही दिव्यांग मतदाता, बीमार व्यक्ति या किसी महिला के साथ यदि कोई छोटा बच्चा है तो वह उसे प्राथमिकता के आधार पर मतदान करवाने में उनकी सहायता करेंगे। 
जिला निर्वाचन अधिकारी ने यह भी बताया कि विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत अबकी बार जिले में 45 सखी मतदान केन्द्रों के साथ-साथ चारों विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक ग्रीन मतदान केन्द्र भी बनाया गया है, इन मतदान केन्द्रों की खासियत यह होगी कि यह आकर्षक एवं सुंदर होंगे तथा सखी मतदान केन्द्रों पर तैनात सारा स्टाफ महिलाओं का होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।