पूर्वांचल में भाजपा 25 प्रतिशत कट्टर मनुवादियों को टिकट देकर वैश्यों का हक़ छीना- ध्रुवचन्द जायसवाल
May 16th, 2024 | Post by :- | 41 Views

महराजगंज (एके जायसवाल), यूपी के पूर्वांचल में भाजपा ने 25%कट्टर मनुवादियों को टिकट देकर वैश्यों का हक़ छीन लिया है। भाजपा हरायें संविधान बचायें। संविधान रहेगा तभी लोकतंत्र जिन्दा रहेगा। उत्तर प्रदेश में वैश्य बाहुल्य 17 सीटों मे गोरखपुर कुशीनगर देवरिया बस्ती फैज़ाबाद, श्रावस्ती, भदौही, प्रयागराज एवं महराजगंज अमेठी वैश्य बाहुल्य सीटों पर भाजपा के प्रत्याशियों को हारने से वैश्य समाज के लोगों को सत्ता में पहुंचने का रास्ता तैयार होगा। इसलिए हर हाल मे भाजपा के विरुद्ध मतदान करेंगे।

यूपी में सपा कांग्रेस बहुजन सहित सभी पार्टियां वैश्य समाज को टिकट देने पर गम्भीरता से विचार करने के लिए बाध्य होंगे।मुख्य कारण वैश्यों को भाजपा अपना बंधुआ मजदूर समझती है।अधिकांश वैश्य भाजपा को मतदान करते थे इसलिए पार्टियां टिकट नहीं देती किन्तु परिस्थितियां बदली है। वैश्यों का भाजपा से मोहभंग हो चुका है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

प्रथम द्वितीय तृतीय एवं चौथे चरण में बड़ी संख्या में वैश्यों ने अपना हक़ लेने केलिए भाजपा के विरुद्ध मतदान किया है। सोसल मिडिया चैनलों पर राजनीतिक विश्लेषकों ने पहली बार स्वीकार किया हैं। गोरखपुर कुशीनगर देवरिया बस्ती,फैज़ाबाद श्रावस्ती भदोही प्रयागराज के प्रत्याशियों को हराने का संकल्प लें चुका है।

भाजपा के शीर्ष नेतृत्व का अहंकार चकनाचूर होगा।जिस तरह से क्षत्रिय समाज जाट गुज्जर एवं सैनी समाज ने पच्क्षिमी उत्तर प्रदेश एवं राजस्थान गुजरात सहित कई प्रान्तों में अपने समाज के अपमान का हिसाब किताब चुकता किया। उसी तर्ज पर वैश्य भी पूर्वांचल में भी भाजपा को हराकर हिसाब किताब चुकता करने को तैयार है। उक्त ब्यान अपना समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ध्रुवचन्द जायसवाल ने जारी की।

ध्रुवचन्द जायसवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में वैश्य बाहुल्य 17 सीटों मे गोरखपुर कुशीनगर देवरिया बस्ती फैज़ाबाद श्रावस्ती भदोही प्रयागराज एवं महराजगंज अमेठी के भाजपा प्रत्याशियों को हराते ही वैश्यों के लिए सत्ता में पहुंचने का रास्ता तैयार हो जायेगा। यूपी में सपा कांग्रेस बहुजन सहित सभी पार्टियां वैश्य समाज को टिकट देने पर गम्भीरता से विचार करने के लिए बाध्य होने की सम्भावना बढ़ जायेगी।मुख्य कारण वैश्यों को भाजपा अपना बंधुआ मजदूर समझती है।

इसलिए कोई अन्य पार्टियां वैश्यों को टिकट नहीं देती है। प्रथम द्वितीय तृतीय एवं चौथे चरण में बड़ी संख्या में वैश्यों ने अपना हक़ लेने केलिए भाजपा के विरुद्ध मतदान किया है कुछ प्रत्यक्ष एवं बड़ी संख्या में अप्रत्यक्ष रूप से इंडिया गठबन्धन के प्रत्याशियों को मतदान किया है। पहली बार मिडिया चैनलों पर राजनीतिक विश्लेषकों ने स्वीकार किया कि वैश्यों ने भी भाजपा के विरुद्ध मतदान किया है। यह मेरे समाज के लिए गर्व है कि मेरे ललाट पर भाजपा का बंधुआ मजदूर का ठप्पा कलंक लगा था उसे मिटा दिया है।

आने वाले समय में सुखद आश्चर्य चकित परिणाम दिखाई देने लगेंगे। स्मरण रहे कि भाजपा ने 2014 व 2019 एवं 2024 के लोकसभा चुनावों में एक भी टिकट नहीं दिया है। इसीलिए वैश्यों ने अपना हक़ लेने के लिए अपने ऐतिहासिक निर्णय से भाजपा को अवगत कराने का श्रीगणेश कर दिया है। पूर्वांचल के सीटों पर भी भाजपा के प्रत्याशियों को अप्रत्याशित हार का सामना करना पड़ेगा। भाजपा प्रत्याशी ने वैश्यों के विरुद्ध अमर्यादित टिप्पणी किया है इसका खामियाजा भाजपा को इसी चुनाव में भुगतना पड़ेगा।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review