हत्या का आरोप लगाते हुए परिजनों व ग्रामीणों ने शव थाने के समक्ष रख लगाया धरना
May 16th, 2024 | Post by :- | 16 Views

श्रीगंगानगर,(यश कुमार)। गजसिंहपुर से जोरावरसिंहपुर रोड पर करीब एक पखवाड़े पहले सडक़ दुर्घटना में घायल युवक ने गुरुवार को जयपुर में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया युवक के दम तोड़ते ही परिजनों का गुस्सा पुलिस पर फूट पड़ा और शव को गजसिंहपुर पुलिस थाना के समक्ष रख धरने पर बैठ गए परिजनों के धरना लगाने की सूचना मिलते ही श्रीकरणपुर पुलिस उप अधीक्षक संजीव चौहान भी दल बल सहित मौके पर पहुंच गए लेकिन परिजनों ने युवक की हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस पर मामला दबाने का आरोप लगाया जिसके चलते पहले दौर की वार्ता सफल नहीं हो सकी करीब एक पखवाड़ा पूर्व युवक गगनदीप सिंह पुत्र सरबजीत सिंह जाति मजहबी सिख निवासी 11 एफएफ गजसिंहपुर से काम काज करके अपने गांव 11 एफएफ के लिए रवाना हुआ था गांव पहुंचने से पहले ही गगनदीप सडक़ दुर्घटना में घायल हो गया जिसके बाद राहगीरों ने युवक को राजकीय चिकित्सालय में भर्ती करवाया लेकिन युवक की हालत गंभीर होने के कारण चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद श्रीगंगानगर रेफर कर दिया इसके बाद श्रीगंगानगर में चार-पांच दिन इलाज चलने के बाद उसे जयपुर इलाज के लिए भेज दिया गया जयपुर में गगनदीप कोमा में चला गया जिसके बाद युवक ने बुधवार को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया उधर पुलिस सडक़ दुर्घटना को लेकर जांच पड़ताल कर रही थी थाना प्रभारी राकेश सांखला ने बताया कि मृतक गगनदीप सिंह 1 मई को सडक़ दुघर्टना में घायल हो गया था उसके पांच दिन बाद पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया गया जिसकी जांच पड़ताल चल रही थी युवक के दम तोडऩे की सूचना जैसे ही गांव में पहुंची तो ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा जिसके बाद मृतक के शव को साथ लेकर बड़ी संख्या में ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में सवार होकर पुलिस थाने पहुंचने लगे ग्रामीणों के पुलिस थाने पहुंचने के बाद पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से मेन गेट पर बैरिकेड्स लगाकर ग्रामीणों को बाहर ही रोक दिया इसी बात को लेकर ग्रामीण पुलिस के प्रति नाराजगी जाहिर कर नारेबाजी कर मुख्य गेट के समक्ष धरना लगाकर बैठ गए वहीं परिजनों का कहना है कि गगनदीप की प्लानिंग के तहत हत्या की गई है इस मामले को लेकर पुलिस प्रशासन को आरोपियों के बारे में भी बताया गया परिजनों ने कहा कि लेकिन पुलिस मामले को दबाने का प्रयास कर रही है और आरोपियों को पकड़ नहीं रही है ग्रामीणों ने सभा को सम्बोधित करते हुए बताया कि इस मामले को पुलिस द्वारा हत्या से जोडकऱ जांच पड़ताल की जानी चाहिए पुलिस ने पांच-सात लोगों को पुलिस उप अधीक्षक से वार्तालाप करने के लिए बुलाया लेकिन ग्रामीणों ने कहा कि पुलिस को उनके साथ बाहर आकर ही वार्तालाप करनी होगी जिसके बाद मामला उग्र होते देख पुलिस उप अधीक्षक संजीव चैहान ने धरना स्थल पर वार्ता की लेकिन ग्रामीणों हत्या करने का आरोप लगाकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे इसके बाद श्रीकरणपुर विधायक रूपेन्द्र सिंह कुन्नर भी धरना स्थल पर पहुंच गए इसके बाद फिर से पुलिस के साथ वार्तालाप की गई इस पर पुलिस उप अधीक्षक संजीव चौहान ने कहा कि सात दिवस में मामले की निष्पक्ष जांच पड़ताल की जायेगी अगर मामले में कोई दोषी पाया जाता है उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाही की जाएगी इसके बाद दोनो पक्षों में सहमति बनने के बाद धरना उठा लिया गया ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review