हिंडौन में आएंगे शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज, धर्मसभा को करेंगे संबोधित
May 15th, 2024 | Post by :- | 161 Views

हिंडौन में कल आएंगे शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज, धर्मसभा को करेंगे संबोधित 
हिंडौन सिटी।
ब्राह्मण समाज की ओर से गुरुवार को शहर में भगवान परशुराम की भव्य शोभायात्रा निकालने के साथ धर्मसभा का आयोजन किया जाएगा। इस धार्मिक कार्यक्रम में बद्रीनाथ ज्योतिषमठ के शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती सहित कई संत शामिल होंगे। धर्मसभा के लिए जगदम्बेश्वर महादेव मंदिर परिसर में व्यवस्थाएं की गई है। जिसमें मंच पर शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सहित 10 से अधिक संत विराजमान होंगे।
ब्राह्मण समाज के तहसील अध्यक्ष अशोक शर्मा ने बताया कि गुरुवार को दोपहर 3 बजे से 4 बजे तक ऋषि महा अभिनंदन व पादुका पूजन होगा। दोपहर 4 बजे से धर्मप्रवचन होंगे। सायंकाल 5 बजे से 8 बजे तक भगवान परशुराम की शोभायात्रा निकाली जाएगी। समारोह में राजस्थान ब्राह्मण महासभा के संरक्षक एसडी शर्मा, प्रदेशाध्यक्ष राधेश्याम जैमिनी सहित प्रदेशभर से प्रमुख लोग शामिल होंगे। तहसील अध्यक्ष अशोक शर्मा ने बताया कि भगवान परशुराम की शोभायात्रा गुरुवार को शाम 5 बजे झंडूकापुरा शिवालय मंदिर से शुरु होकर स्टेशन रोड, मंडी, बयाना मोड, चौपड सर्किल होते हुए ब्राह्मण धर्मशाला पहुंचेगी। शोभायात्रा में तीन रथों में संतों को विराजमान कराया जाएगा। इसके अलावा 5 झांकी व दो बैंड शामिल होंगे। इससे पहले दोपहर एक बजे से सायं 5 बजे तक प्रसादी वितरण का कार्यक्रम होगा। शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती दूसरी बार आ रहे हैं। ये ज्योतिषपीठ बद्रीनाथ के प्रमुख है। जिन्हें शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के ब्रह्मलीन होने के बाद उनका उत्तराधिकारी बनाया गया था। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद का जन्म प्रतापगढ़ के पट्टी तहसील के ब्राह्मणपुर गांव में 15 अगस्त 1969 को हुआ। इनके पिता पंडित राम सुमेर पांडेय और माता अनारा देवी अब इस दुनिया में नहीं हैं। इनका मूल नाम उमाशंकर है। इनकी प्राथमिक शिक्षा गांव के प्राइमरी स्कूल में हुई। उसके बाद वह परिवार की सहमति पर नौ साल की अवस्था में गुजरात जाकर धर्मसम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज के शिष्य ब्रह्मचारी रामचैतन्य के सानिध्य में गुरुकुल में संस्कृत शिक्षा ग्रहण करने लगे। ब

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review