पूर्व चेयरमैन रवि खत्री भी कांग्रेस पार्टी का सच्चा सिपाही : भूपेंद्र सिंह हुड्डा
October 13th, 2019 | Post by :- | 256 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने पूर्व चेयरमैन रवि खत्री का निष्कासन किया रद्द, लेटर किया जारी

बहादुरगढ़। कांग्रेस कार्यकर्ता ही पार्टी की रीढ़ की हड्डी हैं यह बात पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रविवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि पूर्व चेयरमैन रवि खत्री भी कांग्रेस पार्टी का सच्चा सिपाही हैं। उन्होंने पार्टी को मजबूत करने के लिए अहम भूमिका निभाई हैं। वही पूर्व चेयरमैन रवि खत्री ने कहा कि वह बहादुरगढ़ कांग्रेस प्रत्याशी राजेंद्र सिंह जून का तन मन धन से साथ देंगें। प्रत्येक कांग्रेस कार्यकर्ता कांग्रेस प्रत्याशी को भारी मतों से जीताने का काम करें ताकि बहादुरगढ़ का विकास हो सकें।पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि जनता प्रदेश की जनविरोधी भाजपा सरकार से पूरी तरह से तंग हो चुकी है और प्रदेश में सत्ता का बदलाव चाहती है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में प्रदेश की समझदार जनता झूठे वादों व जुमलों की भाजपा सरकार को सबक सिखाते हुए हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनाने का जनादेश देगी। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद सभी वर्गों की भलाई का काम करके हरियाणा प्रदेश को फिर से नंबर प्रदेश बनाने का काम किया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने पूर्व चेयरमैन रवि खत्री का निष्कासन किया रद्द, लेटर किया जारी

 

निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करने वाले नगर परिषद के पूर्व चेयरमैन रवि खत्री को हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा किए गए निष्कासन को प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा द्वारा रद्द कर दिया गया हैं। बता दे कि निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करने वाले रवि खत्री द्वारा बहादुरगढ़ से कांग्रेस प्रत्याशी राजेंद्र सिंह जून के समर्थन में अपना नामांकन वापिस ले लिया था और इस बात से जब हरियाणा कांग्रेस कमेटी प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा को अवगत कराया गया तो उन्होंने तुरंत प्रभाव से उनके निष्कासन को रद्द कर दिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।