(एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स पुलिस मुख्यालय की कार्रवाई) गैंगस्टर्स को फर्जी पासपोर्ट द्वारा विदेश भेजने वाले मुख्य सरगना राहुल सरकार को उत्तराखण्ड नेपाल बॉर्डर से पकड़ा
April 2nd, 2024 | Post by :- | 50 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अपराध व एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स श्री दिनेश एमएन के निर्देशन में एजीटीएफ पुलिस मुख्यालय एवं जिला बीकानेर ने संयुक्त कार्रवाई कर रोहित गोदारा / लॉरेंस गिरोह के सदस्यों लिए फर्जी पासपोर्ट तैयार कर विदेश भेजने वाले मुख्य सरगना राहुल सरकार को उत्तराखण्ड से पकड़ने में सफलता हासिल की है। उप महानिरीक्षक पुलिस अपराध शाखा व एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स श्री योगेश यादव के सुपरविजन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विद्याप्रकाश के पर्यवेक्षण में पुलिस निरीक्षक श्री रविन्द्र प्रताप सिंह एवं श्री सुनिल कुमार की सूचना पर टीम को रवाना किया गया। प्राप्त आसूचना से ज्ञात हुआ कि गैंगस्टर्स अपनी पहचान छुपाकर विदेश जाने के लिए जिस फर्जी पासपोर्ट का उपयोग करते है वह फर्जी पासपोर्ट मुख्य रूप से राहुल सरकार नामक व्यक्ति द्वारा उपलब्ध करवाये जाते है। उक्त शातिर अपराधी पर एजीटीएफ द्वारा पूर्व से ही निगरानी रखी जा रही थी। जिसके संबंध में दिल्ली एवं उत्तराखंड राज्यों में दबिश दी गई थी। एजीटीएफ टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही कर अपराधी की लोकेशन का पता लगया कि राहुल सरकार उतराखण्ड में छुपा हुआ है। जिसे पीएचक्यू एजीटीएफ व बीकानेर पुलिस द्वारा उतराखण्ड नेपाल बॉर्डर से दस्तयाब किया गया। इससे संबंधित प्रकरण बीकानेर पुलिस द्वारा दर्ज किया गया है जिसमें अनुसंधान जारी है। पुलिस निरीक्षक रविन्द्र प्रताप सिंह एवं सुनिल कुमार राजस्थान पुलिस के साहसी, कर्मठ एवं होनहार अधिकारी है, जिनको गैंगस्टर्स के नेटवर्क की आपराधिक गतिविधियों की सूचना प्राप्त करने और उनके नेटवर्क की कमर तोडने में महारथ हासिल है। इन दोनो अधिकारियों के द्वारा राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेडी हत्याकाण्ड के मुख्य अपराधियों को चण्डीगढ से गिरफ्तार करने में विशेष भूमिका निभाई थी। रोहित गोदारा व लॉरेंस गैंग के जिन सदस्यों को विदेश भागने में मदद की गई है एवं फर्जी पासपोर्ट उपलब्ध करवाये गये है, उन सभी को भी एजीटीएफ द्वारा चिन्हित किया गया है। एजीटीएफ द्वारा इस रैकेट में शामिल अन्य अपराधियों की धर पकड़ हेतु कई राज्यों में दबिश दी जा रही है, जो अपराधी विदेश में है उनके विरुद्ध कानूनी प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। एजीटीएफ टीम पीएचक्यू से पुलिस निरीक्षक रविन्द्र प्रताप सिंह एवं सुनिल कुमार की मुख्य भूमिका रही। कार्रवाई में एजीटीएफ व बीकानेर पुलिस शामिल थी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review