स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अपने आवास पर नगर परिषद के अधिकारियों की बैठक लेकर दिये उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश।
August 22nd, 2019 | Post by :- | 155 Views

अम्बाला, अशोक शर्मा
स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज ने आज अपने आवास पर नगर परिषद के अधिकारियों के साथ बैठक कर अम्बाला छावनी में किये जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा की, वहीं चल रहे विकास कार्यों मे तेजी लाते हुए गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिये जाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी प्रकार की कौताही सहन नही की जायेगी।
स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अपने आवास पर अधिकारियों की साथ बैठक करते हुए सबसे पहले अम्बाला छावनी में चल रहे विकास कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने मौके पर मौजूद अधिकारियों से यह भी जाना कि कितने विकास कार्य प्रगति पर है और कितने कार्यों में वास्तविक स्थिति क्या है। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि जिन कार्यों की राशि आबंटित हो चुकी है, उन कार्यों के टैंडर शीघ्र जारी करना सुनिश्चित करें ताकि विकास कार्यों को समय अनुसार करवाकर जनता को इस सुविधाओं का लाभ दिलवाया जा सके। उन्होंने बताया कि विकास कार्यों के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही है। उन्होंने बैठक के दौरान अधिकारियों को यह भी कहा कि जब भी वह निर्माण कार्य करवा रहे होते हैं तो वह समय-समय पर उनका निरीक्षण भी करें ताकि कार्य की वास्तविक स्थिति का पता चल सके और जो कार्य में कुछ कमी है, उसे समय रहते पूरा किया जा सके। उन्होंने अधिकारियों को साफ-सफाई व्यवस्था का भी विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये।
स्वास्थ्य मंत्री ने जहां विकास कार्यों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की, वहीं यह भी बताया कि लोगों को बेहतर पेयजल सुविधाएं उपलब्ध हो सकें, इसके तहत जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा 8 टयूबवैल नये मंजूर किये गये हैं, जिनमें से 3 टयूबवैल लगाये जा चुके हैं तथा जो 5 अन्य टयूबवैल हैं, वह भी जल्द ही स्थापित कर दिये जाएंगे। उन्होंने बताया कि नगर परिषद के तहत छावनी में प्रत्येक घर तक पेयजल की व्यवस्था करवाई गई है, वहीं सीवरेज व्यवस्था का कार्य भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनका पूरा प्रयास है कि लोगों की जो मूलभूत सुविधायें हैं, उन्हें वह प्राथमिकता के आधार पर दिलवाने का काम कर रहे हैं। इस मौके पर संयुक्त आयुक्त सुशील मलिक सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।