दूध या दारू नही अपने हक का पानी मांग रहा हरियाणा: नवीन जय हिंद
January 24th, 2024 | Post by :- | 271 Views

■24 घंटो में मुख्यमंत्री केजरीवाल व मान अपनी स्थिति स्पष्ट करे
■सिर्फ एक बयान दें की SYL नहर का निर्माण करवाएंगे – हरियाणा की प्यास बुझाएंगे व सुप्रीम कोर्ट का निर्णय मानेंगे
■हम 1–1 लाख रुपए ईनाम देंगे दोनो मुख्यमंत्रियों को
■हरियाणा वाले खुद्दार है गद्दार नही

बुधवार को जयहिंद सेना प्रमुख नवीन जयहिंद ने SYL के पानी के लिए जींद में प्रेसवर्ता की। प्रेसवार्ता में नवीन जयहिंद ने SYL के मुद्दे पर केजरीवाल सरकार की दोगली राजनीति पर सवाल खड़े करते हुए कहा केजरीवाल व भगवंत मान जींद में 28 जनवरी को आएंगे तो SYL मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें। साथ ही जयहिन्द ने कहा कि दोनों मुख्यमंत्री सिर्फ एक बयान दें कि SYL नहर का निर्माण करवाएंगे–हरियाणा की प्यास बुझाएंगे व सुप्रीम कोर्ट का निर्णय मानेंगे। तो हम दोनों मुख्यमंत्रियों को 1–1 लाख रुपए ईनाम देंगे। हरियाणा के लोग गद्दार नही बल्कि खुद्दार है। किसान आन्दोलन में हरियाणा के लोगों ने पंजाब के किसानों के लिए दूध पिलाया है तो पंजाब अब हरियाणा के किसानों को हक़ का पानी तो दे ही सकता है| वैसे भी पंजाब की जनता हरियाणा को पानी देना चाहती है लेकिन राजनीतिक दल इस पर सिर्फ राजनीति कर रहे है | हरियाणा के किसान दूध या दारू नही पानी मांग रहे है वो भी जो माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश में कहा गया है|बजरंगबली ने कहा या राम जी ने की हरियाणा को पानी नही मिलेगा। SYL का पानी हरियाणा का हक़ है कोई भीख नही। ये कुछ राजनीतिक लोग लोकतंत्र को लठतंत्र बना रहे है और SYL के मुद्दे को वोटतंत्र बना रहे है।जयहिन्द ने कहा कि हरियाणा तो मुख्यमंत्री भगवंत मान की ससुराल है फिर भी यहां के लोगो के साथ इतना भेदभाव कर रहे है। साथ ही जयहिन्द ने कहा कि हम अकेले 3 मुख्यमंत्रियों(हरियाणा,पंजाब,दिल्ली) से लड़ाई लड़ रहे है।जयहिन्द ने आंकड़े दिखाते हुए कहा कि हरियाणा में 22 में से 17 जिलों में पानी की कमी है जिसमे सबसे ज्यादा पानी की कमी से प्रभावित जिला जींद है। इन सभी जिलों में लोग जहरीला पानी पी रहे है जिससे उनको अनेको बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है जैसे लोगो के समय से पहले बाल सफेद व गंजे हो जाते है। 80% हरियाणा के गाँवों में भूमिगत जलस्तर (चौवा) एक हजार फ़ीट निचे जा चुका है जिसके कारण किसानों को खेती व आम जनता को पानी की समस्या हो रही है। साथ ही जयहिन्द ने कहा कि अगर SYL का पानी हरियाणा को मिले तो 40 लाख टन अनाज किसान हर साल उगाकर जनता का पेट भर सकते है। यह राजनीतिक लड़ाई नही बल्कि न्याययिक लड़ाई है। और जो नेता या अभिनेता हरियाणा के हक़ में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू करवाने की आवाज नही उठा रहा( syl नहर निर्माण के बारे में नही कह रहा) सब गद्दार है।

जयहिंद ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा उन्होंने SYL पानी का धर्मयुद्ध यात्रा भी निकली थीं जोकि महम के ऐतिहासिक चबूतरे से शुरू होकर गांव-गांव होती हुई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के लिए निकली थी जिसमें जयहिंद सुप्रीम कोर्ट के फैसले के सम्मान में व ताकत के लिए गाय का शुद्ध देसी घी, पानी के मटके, व सोटे भी देकर आए थे ।हरियाणा की महिलाओं ने कारवां चौथ पर माँगा SYL का पानी हरियाणा की महिलाओं ने भी नवीन जयहिंद की SYL पानी का धर्मयुद्ध की मुहिम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया था । कारवां चौथ पर प्रदेश की महिलाओं ने अपने पतियों से अगले साल SYL के पानी से ही अपना व्रत खोलने का वचन लिया। महिलाओं ने कहा कि अगर अगले साल  SYL का पानी नहीं तो वे व्रत भी नहीं करेंगी। सोशल मीडिया पर महिलाओं के समर्थन व अपने पतियों से लिए इस वचन की विडियो भी वायरल हुई थी ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review