मुख्य मंत्री ने प्रकाशोत्सव पर बुधवार को गुरूद्वारा लखनौर साहिब में मत्था टेक कर गुरू जी का आशीर्वाद प्राप्त किया।
January 17th, 2024 | Post by :- | 90 Views

अम्बाला:अशोक शर्मा
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव पर बुधवार को गुरूद्वारा लखनौर साहिब में मत्था टेक कर गुरू जी का आशीर्वाद प्राप्त किया। इस मौके पर गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी के पदाधिकारियों व हरियाणा सिख गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, विधायक असीम गोयल व भाजपा जिला प्रधान मनदीप राणा को सिरोपा, तलवार व गुरू गोबिन्द सिंह जी का चित्र भेंट कर उनका अभिनंदन किया।
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने उपस्थित साध संगत को गुरू गोबिन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव की लख-लख बधाई देते हुए कहा कि आज सारे देश में गुरू गोबिन्द सिंह जी का प्रकाशोत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। गुरूद्वारा लखनौर साहिब जोकि गुरू गोबिन्द सिंह जी का ननहिाल है और यहां पर उनकी व उनकी माता गुजर कौर की भी यादें इस गुरूद्वारा में संजोकर रखी हुई हैं। इस अवसर पर यहां पर आकर वह अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब हम अपने गुरूओं को याद करते हैं, उनकी बहादुरी, पराक्रम, कुर्बानियों व बलिदानों को याद करते हैं तो वह युवा पीढ़ी के लिये प्ररेणा का स्त्रोत है। श्री गुरू गोबिन्द सिंह व उनके परिजनों का इतिहास व पराक्रम हम सबको प्ररेणा दे रहा है। देश, धर्म व कोम के लिये बलिदान देना कितना जरूरी है, यह हमें अपने गुरूओं के इतिहास से पता चलता है। माता गुजर कौर जी यहां की रहने वाली थी और श्री गुरू गोबिन्द सिंह का यह ननहिाल है। बचपन में जब वे 6 वर्ष के थे, तब वह पटना साहिब से लखनौर साहिब में माता गुजर कौर के साथ अपने मामा कृपाल चंद व मेहर चंद के पास आये थे। वे यहां पर हॉकी खेला करते थे। इसके साथ-साथ जब माता गुजर कौर अपने मायके घर में आई तब गांव के लोगों ने उन्हें बताया कि गांव का पानी खारा है, उस दौरान माता गुजर कौर ने अपने पिछले जन्म का कुंआ प्रकट किया था। उन्होंने गांव के लोगों को जहां खुदाई करने के लिये कहा था, वहीं से कुंआ निकला था। यह एतिहासिक कुंआ आज भी चलता है। कुंए का मीठा जल गुरूद्वारा साहिब में पंहुचने वाली संगत अपने साथ लेकर जाती है।
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने यह भी बताया कि इस गुरूद्वारा साहिब में माता गुजर कौर जी व श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी की यादें भी यहां पर संजोई हुई हैं, जिनमें माता गुजर कौर जी का पलंग, श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी का पलंग ऐसा है, जो फोल्ड हो जाता है, गुरू गोबिन्द सिंह जी के दो तीर, एक कटार, एक जमदाड़, एक ढाल व माता गुजरी की दो परांत व हुकमनामा यहां पर है। इस पवित्र जगह पर आकर उन्हें काफी खुशी हुई है। हरियाणा सरकार की तरफ से वे पूरे प्रदेश वासियों को श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव की लख-लख बधाई देते हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पंजाबी में ’पीता वारया ते लाल चारो वारे ओ हिन्द तेरी शान बदले, जनम गुरांदा पटना साहिबदा, जनम गुरांदा पटना साहिबदा, आनन्दपुर डेरा लाया, आनन्दपुर डेरा लाया॥ ओ हिन्द, पिता जिन्हांदे तेग बहादुर, पिता जिन्हांदे तेग बहादुर, माँ गुजरी दा जाया, माँ गुजरी दा जाया॥ ओ हिन्द, हेट गुरांदे नीला घोडा, हेट गुरांदे नीला घोडा, हथ बिच बाज सुहाया, हथ बिच बाज सुहाया ॥ ओ हिन्द, चलो वीरो चल दर्शन करिये, चलो वीरो चल दर्शन करिये, गुरू गोविन्द सिंह आये, गुरू गोविन्द सिंह आये॥ ओ हिन्द तेरी शान बदले पंक्तियां भी सुनाई। इस मौके पर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जहां पर माता गुजर कौर जी व श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी की यादें संजोकर रखी थी, उस कमरे का भी अवलोकन किया। इस मौके पर उन्होंने गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी की ओर से गुरूद्वारा साहिब की पार्किंग में टाइलें व एतिहासिक कुंए के सौंदर्यकरण करने के लिये सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को निर्देश भी दिये। इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए पत्रकारों द्वारा राहुल गांधी के ब्यान पर 22 जनवरी के सम्बन्ध में पूछे गये एक सवाल का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि सभी दिवस भाजपा के हैं, बीजेपी का युग है, बीजेपी का साल है और जनता बीजेपी के साथ है।
इससे पहले स्थानीय विधायक असीम गोयल नन्यौला ने अम्बाला शहर विधानसभा क्षेत्र की ओर से मुख्यमंत्री का यहां पंहुचने पर स्वागत करते हुए श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव की सभी को लख-लख बधाई दी। उन्होंने कहा कि मैं अपने आपको वड़भागी समझता हूं कि मुझे यहां पर सेवा करने का मौका मिला है। अम्बाला शहर विधानसभा क्षेत्र में लखनौर साहिब गांव आता है। आदर्श गांव योजना के तहत जब उन्होंने यह गांव गोद लिया था तो उन्हें बहुत खुशी हुई कि उन्हें गुरू की कृपा से सेवा करने का मौका मिला है। यह बात सामने आई कि इस गांव की वोट कम है लेकिन यहां की पवित्र धरती व गुरू का आशीर्वाद उन्हें मिला है, जिसकी तुलना वोटों से नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी व उनके परिजनों द्वारा जो बलिदान दिया गया है, वह सभी के लिये प्ररेणा का स्त्रोत है। आज हम खुली हवां में सांस ले रहे हैं, वह गुरूओं के बलिदानों व पराक्रम के कारण है।
इस मौके पर मंडलायुक्त रेनू एस. फुलिया, एडीसी अपराजिता, पुलिस अधीक्षक जश्नदीप सिंह रंधावा, एसडीएम दर्शन कुमार, भाजपा जिला प्रधान मनदीप राणा, रितेश गोयल, हरियाणा सिख गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी के प्रधान सरदार भूपिन्द्र सिंह असंध, सदस्य टी.पी. सिंह, विनर सिंह, , बीएस बिन्द्रा, सुदर्शन सहगल, गुरूद्वारा लखनौर साहिब कमेटी के मैनेजर हरभजन सिंह, पूर्व जिला प्रधान जगमोहन लाल कुमार, गुरजंट सिंह, अनुभव अग्रवाल, संजीव गोयल टोनी, पूर्व मेयर रमेश मल, सुंदर ढींगरा, पार्षद यतिन बंसल, पार्षद सुरेश सहोता, गुरप्रीत साना, सुखबीर सिंह, धनराज, हेमंत, कुलदीप सिंह भानोखेड़ी, कंवलजीत सिंह, वीरेन्द्र सिंह, मनजीत सिंह बब्बू, मोहन सिंह धुरकड़ा, कुलबीर सिंह खासपुर, कमलजीत सिंह, हरकीरत सिंह, बलजीत सिंह, प्रीतम सिंह के साथ-साथ अन्य गणमान्य लोग व श्रद्धालू मौजूद रहे।
इसके उपरांत मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भाजपा जिला प्रधान मनदीप राणा के गांव लखनौर साहिब स्थित उनके निवास स्थान पर भी गये और वहां पर मौजूद लोगों से बातचीत कर उनका कुशलक्षेम पूछा। जिला प्रधान मनदीप राणा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल व विधायक असीम गोयल का उनके निवास स्थान पर पंहुचने पर स्वागत किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review