लखीमपुर खीरी विकास खंड मितौली किसानों को आवारा पशुओं से नहीं मिल पा रही निजात।
September 14th, 2023 | Post by :- | 460 Views

लखीमपुर खीरी। 

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

खंड विकास अधिकारी की अनदेखी का शिकार हो रहे गांव के किसान

ब्लॉक मुख्यालय से लेकर गांव के किसानों की फसलों को हजम कर रहे आवारा पशु

 

खीरी लखीमपुर खीरी के ब्लॉक मुख्यालय मितौली क्षेत्र में आवारा पशुओं का जमावड़ा लगा रहता है आवारा पशु मितौली से लेकर क्षेत्र के गांव की सड़कों की रखवाली करते नजर आएंगे इन्हीं सड़कों से अधिकारी निकलते हैं लेकिन अपनी जिम्मेदारी निभाने से कतराते नजर आते हैं जो अधिकारी विकासखंड मुख्यालय के आवारा पशुओं को गौशाला नहीं भिजवा पा रहे हैं वह गांव के किसानों की फसलों की सुरक्षा की गारंटी कैसे दे सकते हैं क्षेत्र में कई गौशाला होने के उपरांत गांव के किसान आवारा पशुओं से अपनी फसलों को बचाने में नाकामयाब है जो किसान इतनी लागत के बावजूद अपनी फसलों को तैयार करता है उसे झुंड के रूप में आकर आवारा पशु कुछ ही पलों में फसल को चट कर जाते हैं।

जहां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्र सरकार किसानों के हित के लिए कई प्रकार की योजनाएं चला रही है पर वह सभी योजनाएं ब्लाक मितौली में कागजों पर कार्यरत है विकासखंड मितौली पखंड विकास अधिकारी की अनदेखी का शिकार होते हुए किसान अपने हो रहे नुकसान के ऊपर आंसू बहाने को मजबूर है ज्ञानेंद्र शुक्ला अमर सिंह सुरेंद्र अखिलेश वर्मा शिवम मिश्रा सहित कई ग्राम सभा के किसानों ने अपनी व्यथा व्यक्त करते हुए बताया सरकार एक तरफ हम सब किसानों के भले के लिए खंड विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि किसी भी गांव में कोई भी आवारा पशु नहीं दिखना चाहिए पर हमारे ब्लाक मितौली के अधिकारी हमारे दुख दर्द में भागीदार बनने की जगह नमक छिड़क रहे हैं हम सब अपना दुख दर्द किससे कहें जो अधिकारी अपने विकासखंड में मुख्यालय में आवारा पशु पाल रखे हैं वह हमारे दुखों का निवारण कैसे कर सकेंगे उच्च अधिकारियों से हम उम्मीद करते हैं कि हमारे दुख दर्द को ध्यान में रखते हुए आवारा पशुओं से निजात दिलाने की कृपा करें।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review