सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए जनसहभागिता आवश्यक:- महानिदेशक पुलिस
June 7th, 2023 | Post by :- | 217 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । महानिदेशक पुलिस श्री उमेश मिश्रा ने कहा कि सरल, सुगम और सुरक्षित यातायात पुलिस की विशेष प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम एवं सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्युओं को रोकने के प्रयासों में आमजन की सहभागिता आवश्यक है। श्री मिश्रा मंगलवार को सांय पुलिस मुख्यालय में पुलिस की यातायात शाखा द्वारा सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में लम्बे समय से कार्यरत स्वयं सेवी संस्था मुस्कान के सहयोग से आयोजित सड़क सुरक्षा कन्सल्टेशन मीटिंग को सम्बोधित कर रहे थे। मीटिंग में विबिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों के प्रतिनिधियों ने भाग लेकर सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम एवं सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्युओं को रोकने के प्रयासों पर व्यापक विचार विमर्श किया। महानिदेशक ने बताया कि राजस्थान पुलिस की वर्ष 2023 के लिए निर्धारित 5 प्राथमिकताओं में भी सुरक्षित यातायात को विषेष महत्व प्रदान कर सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु को कम करना रखा गया है। उन्होंने बताया कि राजस्थान वर्ष 2021 में 9055 जानलेवा हादसों के साथ देश में छठे स्थान पर था। प्रदेश में विगत कई वर्षों से प्रतिवर्ष करीब 10 हजार लोगों की मौत सड़क हादसों में हो रही है। उन्होंने वर्ष 2022 में घटित सड़क दुर्घटनाओं के लगभग एक चौथाई व्यक्ति 18 से 25 वर्ष आयु वर्ग के होने पर चिन्ता व्यक्त की। उन्होंने बताया कि गंभीर सड़क दुर्घटनाओं के कारण राज्य के सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 3 प्रतिशत नुकसान हो रहा है। श्री मिश्रा ने बताया कि सड़क सुरक्षा के मुख्य चार स्तम्भ माने जाते हैं। इनमे सड़क इंजीनियरिंग व वाहन इंजीनियरिंग, मोटर वाहन अधिनियमों व नियमों का इन्फोर्समेन्ट, सड़क उपयोगकर्ताओं की शिक्षा एवं दुर्घटनाएं होने पर जान बचाने के लिए आपातकालीन देखभाल शामिल हैं। उन्होंने कहा कि आपातकालीन देखभाल के लिए सभी को बुनियादी जीवन रक्षक अभ्यासों से परिचित होना आवश्यक है। श्री मिश्रा ने बताया कि सड़क हादसों को कम करने और सड़क सुरक्षा में सुधार के लिए सड़क सुरक्षा ऑडिट किया गया है और अल्पकालिक सुधार करने के साथ ही दीर्घकालीन सुधार भी शुरू हए हैं। उन्होंने सड़क सुरक्षा लेखा परीक्षकों का 2 सप्ताह की अवधि का प्रशिक्षण आयोजित करने वाले एमएनआईटी के प्रोफेसर श्री बी.एल. स्वामी के प्रति आभार व्यक्त करता हूँ। उन्होंने मुस्कान की ट्रस्टी श्रीमती मृदुल भसीन द्वारा सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों की सराहना कर उनके प्रति साधुवाद व्यक्त किया। मुस्कान के चेयरमैन व सेवानिवृत्त डीजीपी श्री मनोज भट्ट ने कहा कि व्यापक सामुहिक प्रयासों से सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्युओं की संख्या में कमी लाई जा सकती है। उन्होंने बताया कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने गत एक दशक में सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्युओं की संख्या को आधा करने का उद्देश्य निर्धारित किया था, लेकिन इसे कही भी अर्जित नहीं किया जा सका। राजस्थान में किए गए प्रयासों के परिणाम स्वरूप हादसों में प्रतिवर्ष होने वाली 10 हजार मृत्यु में कमी लाई जा सकी है। उन्होंने सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्युओं को कम करने के लिए एनजीओ व शिक्षण संस्थानो की उपयोगी भूमिका को रेखांकित करते हुए विशेष रूप से युवाओं व विद्यार्थियों को प्रेरित करने पर बल दिया। अतिरिक्त महानिदेशक यातायात श्री वी के सिंह ने कंसल्टेशन के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला और सड़क सुरक्षा के लिए पुलिस द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने शिक्षण संस्थानों में जागरूकता अभियान संचालित करने का आव्हान किया और इसके लिए यातायात पुलिस के सहयोग के लिए आश्वस्त किया। मुस्कान ट्रस्ट के शान्तनु भसीन ने बताया कि मुस्कान संस्था 11 राज्यों में सड़क सुरक्षा में कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि 43 प्रतिशत मृत्यु दुपहिया वाहन चालकों की होती है और करीब 27 प्रतिशत की मृत्यु हेलमेट नहीं पहनने के कारण है। कंसल्टेशन में मौजूद शिक्षण संस्थानों के प्रतिनिधियों ने उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी और अपने सुझाव भी दिये। ट्रोमा सेंटर के प्रभारी डॉ अनुराग धाकड़ ने बताया कि ट्रोमा सेंटर में वर्ष पर्यन्त बेसिक लाईफ सपोर्ट टेक्नीक की जानकारी दी जाती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।

आप अपने क्षेत्र के समाचार पढ़ने के लिए वैबसाईट को लॉगिन करें :-
https://www.lokhitexpress.com

“लोकहित एक्सप्रेस” फेसबुक लिंक क्लिक आगे शेयर जरूर करें ताकि सभी समाचार आपके फेसबुक पर आए।
https://www.facebook.com/Lokhitexpress/

“लोकहित एक्सप्रेस” YouTube चैनल सब्सक्राईब करें :-
https://www.youtube.com/lokhitexpress

“लोकहित एक्सप्रेस” समाचार पत्र को अपने सुझाव देने के लिए क्लिक करें :-
https://g.page/r/CTBc6pA5p0bxEAg/review