राम जैसे चरित्र का अनुकरण करना  बच्चों में मर्यादित चरित्र का निर्माण करता है-वरुण जैन
October 7th, 2019 | Post by :- | 104 Views

अंबाला : अशोक शर्मा:

अंबाला शहर पीकेआर जैन पब्लिक स्कूल में आज विजयादशमी के उपलक्ष में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।छात्रों द्वारा दशहरे के महत्वपर प्रकाश डाला गया। छात्रों ने सीता स्वयंवर के दृश्य को इतने मनभावनतरीके से दर्शाया  कि सभी दर्शक राम और सीता की अलौकिक सुंदरता में खोगए। सारा वातावरण भक्तिमय हो गया ।इसके बाद कक्षा पहली व दूसरी के नन्हेमुन्ने बच्चे रामायण के विभिन्न चरित्रों की वेशभूषा में नजर आए नन्हें-नन्हें राम ,सीता ,हनुमान, रावण भी  ।साथ ही बच्चों ने अपने अपनेचरित्र के अनुसार उसके विषय में भी बताया ।विद्यालय के प्रधानाचार्याश्रीमती नीरू शर्मा ने छात्रों को संबोधित करते हुए उन्हें विजयदशमी कीबधाई दी और  बताया कि यह पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है ।हमसबको अपने चरित्र में भी यह बात उतारने चाहिए कि अंत में सदा सत्य की ही जीत होती है अतः सत्य के पथ पर ही बढ़ना चाहिए ।विद्यालय के प्रधान श्री धर्मपाल जैन, उपप्रधान प्रोफेसर अशोक जैन, सचिव श्री अशोक जैन, प्रबंधक श्री गौरव जैन, कोषाध्यक्ष श्री हर्ष जैन, सहसचिव  वरुण जैन सभी ने बच्चों के इस प्रयास की प्रशंसा की और कहा कि इस प्रकार के आयोजन बच्चों में धर्म ,संस्कृति की भावनाओं को जागृत करतेहैं ।श्री राम जैसे चरित्र का अनुकरण करना  बच्चों में मर्यादित चरित्र का निर्माण करता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।