( विडियो देखे ) इंदौरा के बलीर गाँव में पीने के पानी को किलत, कई लोग बिभाग से मिलीभगत कर नलकूप में मोटर डलवाकर   पानी को  खेतों में सिंचाई के लिए कर रहे है प्रयोग
October 6th, 2019 | Post by :- | 313 Views

गगन ललगोत्रा (व्यूरो कांगड़ा)

बलीर में पीने के पानी को किलत , कई लोग बिभाग से मिलीभगत कर नलकूप में मोटर डलवाकर   पानी को  खेतों में सिंचाई के लिए कर रहे है प्रयोग

उपमंडल इंदौरा के अंतर्गत पड़ती पंचायत बलीर में पहले से ही पीने के पानी की बड़ी समस्या है और दूसरी तरफ उसी गांव के रहने बाले कुछ एक लोग राजनीती में अच्छी पहुच की धमकियां देकर पीने योग्य पानी का दुरप्रयोग कर रहे है । यह मामला है गाँव पंचायत बलीर के बार्ड नंबर 3 जोकी एस टी मुहल्ल्ला कहलाता है।

 

 

इस मुहल्ला में  आज से लगभग पांच बर्ष पहले बार्ड निवासियों की पानी की समस्या को मध्यनजर रखकर  सरकार ने एक नलकूप लगाया था। ओर आज दिन तक उसका एक भी लीटर पानी आम जनता को पीने के लिए नसीब नही हुआ है । जिसका मुख्य कारण यह है के इसी बार्ड का एक व्यक्ति जोकी बिकास खंड इंदौरा में पंचायती राज बिभाग में एक सरकारी कर्मचारी में ने अपने घर की उसारी करते समय उस सरकारी नलकुप बाली जगह को भी अपनी घर की चारदीवारी में मिलाने में भी कोई कसर नही छोड़ी । ओर बिभाग से मिली भगत कर बाकी मुहल्ल्ला के लोगो को छोड़कर अपने निजी खासमखास लोगो की एक कमेटी बनाकर उस नलकूप के हैंडल को खोलकर नलकूप के हुए बोर में बिभाग से मिलकर एक मोटर डलवा ली और कमेटी के नाम से एक बिजली का कुनेकशन लेकर ओर नलकूप में बड़ी बड़ी काले रंग की पाइपें लगाकर घर से 200 मीटर दूर पाइपो को बिछाकर यह सारा परिबार   उस पानी को अपनी निजी भूमि में संचाई हेतु प्रयोग कर रहै है । यही नही उस नलकूप से कुछ ही दूरी पर एक पानी इकठा करने हेतु एक  सरकार की तरफ से एक बड़े टैंक का निर्माण किया था और अब उक्त व्यक्ति  पानी को उस टैंक में डालकर अपने खेतों को सप्लाई कर रहे है । जबकी अन्य घरो को पीने के लिए पानी से भी बंचित रखा जा रहा है ग्रामीण अनीश ठाकुर और अन्य मुहला बासियों ने बताया के जब भी इसको पानी लेने के बारे में कहते है तो यह व्यक्ति बोलता है के मैं सरकारी कर्मचारी हु ओर राजनीती में मेरी अच्छी पकड़ है और  यह नलकुप मैंने निजी लगबाया हुआ है ।ग्रामीणों ने कहा के इस नलकूप से मोटर को निकाल कर इसको साधारण नलकूप जैसे पहले था उस तरह बनाया जाए  ताकि वर्षो से पीने के पानी से बंचित लोगो को इस नलकुप का पानी सचारु रूप से मिल सके । ग्रामीणों ने बताया के इस संबंध में 7 सितंबर को एक शिकयत पत्र इंदौरा आई पी एच बिभाग के एक्स एन को भी लिखित रूप में दिया था ओर एक प्रतिलिपि एस डी एम इंदौरा,जिलाधीश कांगड़ा,बिकास खंड अधकारी इंदौरा ओर एक कॉपी इंदौरा की विधायक रीता धीमान को भी दी थी  पर एक महीना बीत जाने पर भी आज तक कोई भी कार्यबाही नही हुई है ।

इस सम्बद्ध में जब आई पी एच बिभाग इंदौरा के एक्सईएन प्रदीप चड्डा से बात की गई तो उन्होंने कहा के इस नलकूप के सम्बंध में एक लिखित रूप में शिकयत पत्र मिला है और उस पर जांच करने के लिए एस डी ओर गंगथ को आदेश दिया है । जो भी जांच के बाद रिपोर्ट आएगी उंसके हिसाव से कार्यबाही अमल में लाई जाएगी

इस संबंध में जब एस डी ओ उपमंडल आई पी एच बिभाग गंगथ रजिंदर स्नोरिया से बात की गई  तो उन्होंने बताया के शिकयत पत्र प्राप्त हुआ है जिसमे शिकायतकर्ताओं ने सरकारी नलकूप में किसी के द्वारा निजी मोटर डालने की बात कही है। इन्होंने कहा है  इस  नलकूप की एक कमेटी बनी हुई है और उनकी डिमांड पर ही बिभाग ने नलकूप में मोटर डाली हुई है जिसका सारा रख रखाव की जीमेबारी उस कमेटी की है । अगर उन लोगो द्वारा उस मोटर पर निजी पाइपें लगाकर उसका  पानी अपने खेतों में संचाई के लिए लगाया जा रहा है तो यह उनके लिए गलत बात है । मैं कल मौके पर जा रहा हूँ अगर मामला सही पाया गया पानी का गलत प्रयोग करने बाले उन लोगो पर बनती बिभागीय कार्यबाही की जाएगी ।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।