जैसलमेर पुलिस की विशेष टीम ने किया निर्मम ब्लाईंड मर्डर केस का पर्दाफाश
August 18th, 2019 | Post by :- | 105 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । जैसलमेर पुलिस की विशेष टीम व पुलिस थाना लाठी ने गांव ओढानिया में हूए निर्मम ब्लाईंड मर्डर का पर्दाफाश कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। हत्या की षड़यंत्रकर्ता पत्नी ही निकली जिसने पति से परेशान होकर पति को मारने की 1 लाख रुपये की सुपारी दी थी। सुपारी लेने वाला भी पहले से ही मृतक खेताराम को रंजिशवश मारने की ताक में था।
पुलिस अधीक्षक जैसलमेर डाॅ. किरन कंग ने बताया कि 15 अगस्त 2019 को ओढाणियां निवासी श्रीमति रुपादेवी पत्‍नी खेताराम मेघवाल रिपोर्ट पेश की कि 14 अगस्त को मेरे पति खेताराम को रात्री मे दुकान के आगे से मोटरसाईकिल में डालकर अज्ञात व्‍यक्‍तियों ने गांव के पश्चिम की तरफ ओरण में ले जाकर सिर पर चोट मारकर हत्‍या कर दी। फिर लाश को उठाकर चांदनी जाने वाली रोड़ के पूर्व साईड में पटक दिया। इस पर थाना लाठी में हत्या का प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया गया।
घटना की गम्भीरता को देखते हूए पुलिस अधीक्षक डाॅ. कंग के आदेशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जैसलमेर जयनारायण मीणा एंव वृताधिकारी पोकरण श्री मोटाराम चौधरी के निर्देशन थानाधिकारी पोकरण सुखराम बिश्नोई थानाधिकारी नाचना घेवर सिंह थानाधिकारी लाठी ओमप्रकाश चौधरी थानाधिकारी भणियाणा शंकरलाल एवं तकनिकी सहायता हेतू साईबर सैल से एक टीम गठित की गई।
डॉ. कंग ने बताया कि विशेष तकनिकी विश्लेषण के दौरान मृतक की पत्नी की गतिविधी संदिग्ध लगी। जिससे शनिवार को पुछताछ की तो उसके अपने पति से परेशान होने की बात कही तथा अपने ही गांव ओढानिया निवासी मदन पुत्र लालाराम मेगवाल से 1 लाख रूपये में हत्या का सौदा कर 20 हजार रूपये एडवांस में देना बताया। मदन को दस्तयाब कर पुछताछ की गई तो उसके द्वारा अपने 2 अन्य साथी हेमाराम पुत्र पोकरराम व मोटू पुत्र गुमानाराम मेगवाल निवासीयान सनावडा के साथ मिलकर खेताराम की 14-15 अगस्त की रात्री में हत्या करना स्वीकार किया। जिस पर आरोपी हेमाराम को सनावडा गांव से गिरफ्तार किया गया।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुछताछ में आरोपी मदन व हेमाराम ने बताया कि आज से करीब 9-10 माह पुर्व खेताराम ने मदन के उपर केस कर दिया इस कारण मदन खेताराम से नाराज था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।