घर की छत के साथ गुजर रही बिजली की तारें, सुरक्षा के मद्देनजर किया जाए शिफ्ट।
October 4th, 2019 | Post by :- | 157 Views

(चन्द्रकान्त शर्मा)

रिहायशी एरिया में बने मकानों के ऊपर व आसपास बिजली की तारें लटकने की खबरें अक्सर देखने को मिलती रहती हैं, जो कि लोगों के लिए बड़ा खतरा है। इससे कभी भी कोई बड़ा जानलेवा हादसा हो सकता है।

ऐसा ही एक वाक्या बसंत विहार-विकास विहार कालोनी कालका में देखने को मिला है। कालोनी के मकान नंबर 81 के मालिक राजीव बजाज ने बताया कि उनके घर के साथ ही एक बिजली का पोल लगा हुआ है, जिस पर तारों का गुच्छा लटका हुआ है व बिजली के तारें उनके छत पर बनी लोहे की बॉलकोनी के बिल्कुल नजदीक हैं, जिसमें कई बार स्पार्किंग होती देखी गई है, जिस कारण परिवार के लिए बड़ा खतरा बना हुआ है। बॉलकोनी की रेलिंग पर कपड़े भी नहीं सूखा सकते, बरसात के दिनों में रेलिंग में बिजली का करंट रहता है। बजाज का कहना है कि परिवार इतना ज्यादा डरा हुआ है कि वह बच्चों को भी छत पर नहीं जाने देते, करंट लगने का खतरा हमेशा बना रहता है।

कालोनी के ही मकान नंम्बर 60 में रहने वाली नीतू कपूर ने बताया कि उनके घर के नजदीक लगा बिजली का पोल टेढ़ा हो चुका है, जिसके कभी भी गिरने से कोई भी व्यक्ति हादसे का शिकार हो सकता है। नीतू का कहना है कि घर के बाहर अपनी कार भी खड़ी नहीं कर सकते, डर लगा रहता है कि बिजली का पोल कहीं उनकी गाड़ी के ऊपर न गिर जाए। कालोनीवासी पवन, प्रीति, राजीव बजाज, नीतू कपूर, नंद किशोर, शाम सिंह, राजेश कपूर, राजन, बिमला देवी, प्रदीप अग्रवाल आदि का कहना है कि गली की दूसरी तरफ नगर निगम की जगह खाली पड़ी हुई है, उन्होंने बिजली के पोल्स को उस खाली पड़ी जगह पर शिफ्ट करने के लिए विद्युत विभाग के एसडीओ से अपील की है, ताकि लोगों की समस्याओं का समाधान हो सके। लोगों का कहना है कि यदि बिजली की तारों या टेढ़ा हो चुका।बिजली का पोल के कारण कोई हादसा होता है तो इसके लिए विद्युत विभाग जिम्मेदार होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।