शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री ने इंस्टीटयूट ऑफ होटल मैनेजमेंट के नए भवन का किया उद्घाटन I
August 21st, 2019 | Post by :- | 68 Views

पानीपत (अमित जैन)

हरियाणा के शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने बुधवार को 11.22 करोड़ की लागत से बनाए गए इंस्टीटयूट ऑफ होटल मैनेजमेंट(आईएचएम) पानीपत के नए भवन का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन, पर्यटन विभाग के महानिदेशक विकास यादव, विधायक रोहिता रेवड़ी, उपायुक्त सुमेधा कटारिया, भाजपा के जिला प्रधान प्रमोद विज, प्राचार्य अतुल शुकला के अलावा शहर के गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। प्राचार्य अतुल शुकला ने यहां आने पर सभी का आभार व धन्यवाद प्रकट किया।

मंत्री ने सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षा के बिना कोई भी समाज तरक्की नही कर सकता। होटल मैनेजमेंट एवं पर्यटन के क्षेत्र में बेरोजगारी के इस दौर में भी विश्व स्तर पर भी रोजगार की असीम सम्भावनाएं विद्यमान है और यह प्रत्येक हरियाणवी के लिए गर्व और गौरव का विषय है कि होटल मैनेजमेंट के विद्यार्थियों के लिए पानीपत के इस प्रशिक्षण केन्द्र में छात्रों को अन्र्तराष्ट्रीय स्तर का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

हरियाणा पर्यटन विभाग के अन्र्तगत आईएचएम पानीपत-1 अनूठा संस्थान है। यह संस्थान नैशनल कांउसिल फॉर होटल मैंनेजमेंट एण्ड कैटरिंग टैक्नोलोजी से सम्बंध रखता है। भवन के बन जाने से छात्रों को इस क्षेत्र में आधुनिक शिक्षा सुविधापूर्वक उपलब्ध हो सकेगी। इस प्रशिक्षण केन्द्र में इस समय हॉस्पिटेलिटी एण्ड होटल एडमिनिट्रेशन कोर्स और डिप्लोमा इन फूड प्रोडक्शन के कोर्स उपलब्ध है। इन कोर्सो में क्रमश: 120 व 40 सीट उपलब्ध हैं।

यह भवन 2.3 एकड़ भू-भाग पर 11 करोड़ 22 लाख की लागत से बनाया गया है। इसकी दूसरी मंजिल पर 62076 वर्ग फूट में निर्माण किया गया है। समारोह को पर्यटन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन, पर्यटन विभाग के महानिदेशक विकास यादव, एमएल बैरागी ने भी संबोधित किया

इस अवसर पर पर्यटन मंत्री ने विद्यालय के प्रतिभाशाली छात्र उद्श्या चौधरी, दृष्टि महाजन, आदित्य शर्मा और आकाश को चैक देकर सम्मानित किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।