हिंडौन के डागुर हॉस्पीटल के डॉ. प्रेमराज डागुर ने स्पेन के मदरीद शहर में हुई अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस में शामिल होकर सीखी ईलाज की नई पद्धति
October 3rd, 2019 | Post by :- | 127 Views

हिंडौन सिटी। हिंडौन के डागुर हॉस्पीटल के डॉ. प्रेमराज डागुर ने स्पेन के मदरीद शहर में हुई अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस में शामिल होकर ईलाज की नई पद्धति सीखी है। 28 सितंबर से 2 अक्टूबर तक हुई कांफ्रेंस में विशेषज्ञ टीम की ओर से श्वांस, टीवी और एलर्जी के मरीजों का नई पद्धति से ईलाज के बारे में विस्तार से प्रशिक्षण दिया गया। डागुर ने बताया कि कांफ्रेंस में पूरे विश्व से प्रमुख डॉक्टरों को अामंत्रित किया गया था। डॉ. डागुर ने बताया कि सर्दियों में श्वास नलियां सिकुड़ने लगती है और कफ भी ज्यादा बनता है। इसलिए अस्थमा की समस्या सर्दियों में ज्यादा बढ़ जाती है। विश्व में एलर्जिक रायनायटिस से 400 मिलियन लोग एवं अस्थमा से 300 मिलियन लोग पीड़ित हैं और इन बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या विकासशील एवं विकसित देशों में निरंतर बढ़ती जा रही है। डागुर ने बताया कि श्वांस रोगियों को बचाव के लिए घर को धूल और धुएं से मुक्त रखें। पूरी तरह गर्म कपड़ों से खुद को ढंककर रखें। एयरकंडीशन और तेज पंखे के नीचे बिल्कुल न बैठें। बताया कि एलर्जिक रायनायटिस एवं एलर्जिक अस्थमा दोनों ही श्वसन तंत्र की आयजी ई मीडियेटेड एलर्जी है। विश्व में एलर्जिक रायनायटिस से 400 मिलियन लोग एवं अस्थमा से 300 मिलियन लोग पीड़ित हैं और इन बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या विकासशील एवं विकसित देशों में निरंतर बढ़ती जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार वर्ष 2025 तक विश्व में करीब 400 मिलियन लोग अस्थमा से पीड़ित होंगे, जो चिंता का विषय है। पूरे विश्व में इस बीमारी से हर साल 30 से 40 लाख कार्यदिवस का आर्थिक बोझ एवं 10 लाख दिनों का बच्चों के स्कूल का नुकसान होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार क्रोनिक डिसएबिलिटी (लगातार अपंगता) करने वाली प्रथम 10 बीमारियों में एलर्जिक रायनायटिस का स्थान है। इस तरह से एलर्जिक रायनायटिस हमारे रोजमर्रा के जीवन में व्यवधान बनकर खड़ी हो जाती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।