BBN में अवैध निर्माण पर BBNDA सतर्क है या कर रही है दिखावा????
August 21st, 2019 | Post by :- | 1011 Views

राज कश्यप 21अगस्त, नालागढ

आज अवैध निर्माण से जुड़ा एक मामला न्यू नालागढ़ के वार्ड नंबर 2 से सामने आया, जहां एक दुकानदार अपनी दुकान के अंदर बारिश का पानी जाने से रोकने के लिए अस्थाई शेैड का निर्माण अपने आस परोस को ध्यान में रखते हुए कर रहा था। जिसे रोकने के लिए न्यू नालागढ सोसाइटी के सदस्य और BBNDA से विकास परमार पहुंचे ।

न्यू नालागढ़ सोसायटी के प्रधान(दीपा),बग्गा राम,नसीब सैनी ने दुकानदार प्रदीप शर्मा को रोकने के लिए उसे डराते हुए कहा कि आप अपनी दुकान के बाहर यह शैड नहीं डाल सकते, तब दुकानदार प्रदीप ने कहा कि इस लाइन में सभी दुकानों के बाहर और पूरे न्यू नालागढ़ में आधी से ज्यादा दुकानों के बाहर शैड डले हुए हैं अगर मैं भी डाल लूंगा तो इससे किसी को क्या परेशानी होगी, इस पर न्यू नालागढ़ सोसाइटी प्रधान और बग्गा राम ने कहा कि आप अपनी दुकान के बाहर टीन का शैेड नहीं डाल सकते अगर डालना ही है तो पक्का शैड डालिए।

यह टीन का शैड अवैध माना जाएगा और इसके खिलाफ हम कारवाई करते हुए हम आपके घर का पानी और बिजली का कनेक्शन भी काट देंगे । प्रदीप के अनुसार जब हिमाचल में हिमाचल प्रदेश के ही वासी को ही व्यवसाय नही करने दिया जाए तो ये तो सिर्फ आपसी द्वेष की मानसिकता दर्शाती है । जो कि सरासर गलत है ।

अब आप ही सोचिए किराए पर ली हुए दुकान पर कोई भी किराएदार पक्का निर्माण कैसे करवा सकता है? जब इन्होंने यह बातें कहीं तब BBNDA के एक अधिकारी विकास परमार जी वहां पर मौजूद थे जोकि एडिशनल सीईओ सुधीर शर्मा जी के आदेशों से वहां पहुंचे थे।

जब हमारे पत्रकार इसका विडियों बना रहे थे तो उनहोंने कई बार कैमरे पे हाथ मारा । BBNDA की तरफ से आए हुए विकास परमार जी ने यह कार्यवाही सिर्फ मौखिक शिकायत के आधार पर की,जब हमारे पत्रकार ने उनसे उनके ऑफिस में जाकर न्यू नालागढ़ में बाकी हो रहे तथा हो चुके अवैध निर्माण पर कार्यवाही के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि हमें लिखित में शिकायत चाहिए ।

अह सोचने वाली बात है कि जब कोई लिखित शिकायत पंहुची नही फिर भी विभाग ने कार्रवाई की । क्या भविष्य में भी ऐसा होगा ।लगता है विनोद कुमार का भय BBNDA में दिखने लगा है ।

अब देखने की बात यह रहेगी कि न्यू नालागढ़ में अवैध निर्माण पर कार्यवाही कितने समय में होगी होगी भी या नहीं होगी क्योंकि इसके खिलाफ अभी किसी ने लिखित में शिकायत नहीं दर्ज करवाई है , लेकिन यह सारा अवैध निर्माण BBNDA द्वारा भेजे गए विकास परमार जी अपनी आंखों से देख चुके हैं और उनहोंने इस की पुष्टि भी की है । हमारी खबर के माध्यम से भी उनको इसके बारे में काफी जानकारी मिल जाएगी ।

अब प्रतीत हो रहा है कि BBNDA CEO विनोद कुमार का भरष्टाचार मुक्त BBN का लक्ष्य निर्धारित किया जा चुका है ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।