इंदौरा क्षेत्र में एक गाँव के मुखिया ने ही भंग कर दी रामलीला मंच की पवित्रता ओर जूते पहन पहुंचे मंच के ऊपर
October 2nd, 2019 | Post by :- | 475 Views

गगन ललगोत्रा/अजय शर्मा(टीम इंदौरा )

इन्दौरा की विद्यायक यहाँ सूरजपुर रामलीला नाटक क्लब में बतौर अथिति पहुंची और मंच पर भगवान रूप में विराजमान नाटक क्लब सूरजपुर के युवाओं को रामचन्द्र जी का गुणगान करते देखा और इसके बाद उनको सम्मानित किया गयाइस मौके पर उनको सम्मान ट्राफी दी गयी जब विधायक को सम्मानित किया गया तो वह मंच पर जूते उतार कर गयी लेकिन उसी समय उनको जो सम्मानित कर रहे थे उनमें से एक माननीय विधायक रीता धीमान के साथ पवित्र रामलीला मंच पर पीले रंग की टीशर्ट पहन कर खड़ा था उस शख्स ने रामलीला की मर्यादा को भंग किया, उनको यह नहीं मालूम था कि रामलीला के मंच की पवित्रता कितनी होती है और यह शख्स जूते पहन कर मंच पर चला गया इनको इस बात का ज्ञान होना चाहिये कि नवरात्रों में जो रामलीला के पात्र होते हैं वो भगवान रूप में होते हैं और मंच पर 10 दिन स्वयं भगवान विराजमान होतें है और यह शख्स जूते पहन कर उस मर्यादा को भंग कर रहा था जो कि एक शर्मनाक बात है यहाँ विद्यायक जूते खोलकर मंच पर गई और उन्होंने मंच की पवित्रता को बनाये रखा पर वहीं इस शख्स को जूते खोल कर जाना उचित नहीँ लगा इस लिये इस शख्स ने मंच की पवित्रता की मर्यादा को भंग किया।

विधानसभा क्षेत्र के कुछ लोगों ने बताया कि यह शख्स किसी गांव का मुखिया है और अगर मुखिया ही ऐसे काम करने लगे तो यह काफी शर्मनाक बात है जिसे की मुखिया को समझना चाहिए एवं भगवान के उस मंच पर जाकर माथा टेकना चाहिये कि यह गलती वो कभी दोवारा नहीँ दोहराएंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।